ज्योतिषीय विश्लेषण


पक्षाघात रोग: कारण एवं निवारण

जुलाई 2014

व्यूस: 6029

पक्षाघात ‘पक्ष’ व ‘आघात’ दो शब्दों से मिलकर बना है। ‘पक्ष’ अर्थात शरीर का आधा भाग तथा आघात अर्थात शरीर के आधे भाग का कार्य न करना। पक्षाघात में ज्ञानेन्द्रियां, कर्मेन्द्रियां व मन प्रभावित होते हैं। आचार्य चरक के अनुसार पक्षा... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीक

वैजयंती माला

मई 2011

व्यूस: 6006

वैजयंती माला

शरद त्रिपाठी

विशिष्ट व्यक्तियों के जीवन काल का ज्योतिषीय विश्लेषण पढ़ चुके हैं इस अंक में प्रस्तुत है प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री, नृत्यांगना व सांसद रह चुकी श्रीमती वैजयंती माला बाली का जीवन चक्र।... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशायशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकसफलता

मीरा बाई

मई 2016

व्यूस: 5985

मीरा बाई

शरद त्रिपाठी

‘‘मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोई। जाके सिर मोर मुकुट मेरो पति सोई।।’’ आज हम बात कर रहे हैं, श्रीकृष्ण की अनन्य साधिका मीराबाई की। मीरा के कृष्ण प्रेम व भक्ति से सभी परिचित हैं। यद्यपि मीरा के जन्म वर्ष व तिथि से संबंधित ... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणभविष्यवाणी तकनीकगोचर

विधाता ने जब सब कुछ कुंडली में लिखा है तो उपाय क्यों?

जनवरी 2012

व्यूस: 5876

विधि के लिखे लेख ऐसी गूढ़ लिपि में लिखे होते हैं जिसकी भावार्थ, शब्दार्थ सहित पूर्ण व्याख्या कभी संभव नहीं हो सकती। फलतः मनुष्य के कर्म क्षेत्र में उपायों की गुंजाइश बनी ही रहती है।... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगविविध

वक्री ग्रहों प्रभाव

मार्च 2006

व्यूस: 5868

वक्री ग्रहों प्रभाव

फ्यूचर पाॅइन्ट

प्रश्न: वक्री ग्रहों का क्या प्रभाव होता है? ग्रहों के उच्च, नीच, शुभ, अशुभ, स्तंभित या अस्त होने की स्थिति में वक्री होने पर उनके प्रभाव में क्या अंतर आता है? ग्रह वक्री कैसे होते हैं? हम मान लें कि पृथ्वी स्थिर है। बुध अपनी च... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणग्रहभविष्यवाणी तकनीक

कुंडली में पितृ दोष

आगस्त 2016

व्यूस: 5867

कुंडली में पितृ दोष

फ्यूचर पाॅइन्ट

पितृ दोष क्या है? इसके ज्योतिषीय योगों का वर्णन करें। इससे होने वाली परेशानियां व उनके उपायों का वर्णन करें। यदि कुंडली में पितृदोष हैं, परंतु जीवन में कष्ट नहीं है या पितृदोष नहीं है, लेकिन कष्ट है, तो क्या पितृदोष के उपाय किय... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिज्योतिषीय विश्लेषणकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीक

मानसिक विकृति का भूत

फ़रवरी 2015

व्यूस: 5853

16 दिसंबर 2013 को घटित हुए निर्भया कांड को दो वर्ष हो गये हैं। इस कांड की न केवल भारत बल्कि पूरी दुनिया में निंदा की गई। भारत में महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने के लिए कड़े कानून बनाने की मांग उठी, बहुत से प्रदर्शन भी हुए और... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकगोचर

शनि तोडता है तो शुक्र जोडता है

जुलाई 2007

व्यूस: 5850

ज्योतिष शास्त्र में शनि अपूर्णता, हीनता अभाव आदि का परिचायक है। शनि एक प्रथकतावादी ग्रह भी है और अपनी दशा अथवा अंतर्दशा एवं साढ़ेसाती में अकारक होकर व्यक्ति को प्रभावित क्षेत्रों से अलग करता है और एक अलगाव की स्थिति बना देता है।... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगग्रह

एक नाकाम रिश्ता...

जून 2014

व्यूस: 5819

कहते हैं रिश्ते ऊपर वाला बनाता है। मानवीय प्रयास तो केवल औपचारिकता मात्र ही होते हैं। कई बार रिश्तों में ऐसी कड़वाहट आ जाती है कि इन्सान चाह कर भी कुछ नहीं कर पाता।... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणदशाभविष्यवाणी तकनीकगोचर

ग्रह प्रभावशाली या कर्म

अप्रैल 2007

व्यूस: 5808

वैज्ञानिकों की सर्वदा एक जिज्ञासा रही है की ग्रह मानवीय जीवन पर कैसे असर डालते है। भौतिक जीवन में ऐसा प्रतीत होता है की मनुष्य के कर्म ही उसके फल का कारण होते है, जबकि ज्योतिष के अनुसार मनुष्य ग्रहों के प्रभाव से बंधा हुआ है। और व... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणयशग्रह

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)