भारत के लिए विक्रम संवत् 2071

भारत के लिए विक्रम संवत् 2071  

. 31 मार्च 2014 को हिंदुओं का नववर्ष प्रारंभ होगा। उस तिथि को गुड़ी पड़वा कहते हैं। संवत् 2071-चैत्र शुक्ल पक्ष एवं सोमवार-सिद्धि योग में प्रारंभ होगा। . हमारे देश भारतवर्ष की वृष लग्न एवं कर्क राशि है। इस कारण अभी गुरु बारहवें स्थान पर होने से 18 जून 2014 तक अनेक कठिनाइयां भारत सरकार के लिए रहेगा। उधर शनि का ढैया भी 02 नवंबर 2014 तक अनिष्टकारी रहेगा। बारहवां स्थान खर्चे का होता है। इस कारण भारत सरकार 18 जून 2014 तक अनेक खर्च बजट के बाहर करेगी और भारत की फायनेंशियल पोजिशन एक खतरनाक मोड़ पर रहेगी। शनि की पूर्ण दृष्टि भारत देश के वित्त भाव पर होने से भारत की वित्तीय स्थिति 02 नवंबर 2014 तक डांवाडोल रहेगी। इसके बाद शनि के कष्ट से राहत मिलेगी। भारत देश के लिए गुरु बृहस्पति बारहवें स्थान पर वनवास देता है। शायद वत्र्तमान सरकार को वनवास दे दे। 18 जून 2014 के बाद गुरु देश की राशि में आयेगा और अनुकूल रहेगा। देश की राशि में गुरु 14 जुलाई 2015 तक रहेगा। इस प्रकार 18 जून 2014 से 14 जुलाई 2015 के बीच भारत सरकार जनहित के कार्य करेगी और भारत भूमि का जन मानस सुखी रहेगा। बृहस्पति (गुरु) कर्क और वृश्चिक राशि वालों के लिए 18 जून 2014 तक नुकसानदायक रहेगा। इसके बाद गुरु सिंह और धनु राशि वालों के लिए 14 जुलाई 2015 तक नुकसानदायक रहेगा। इन राशि वालों को गुरु का मंत्र जाप करना चाहिए। मंत्र- ऊँ बृं बृहस्पतयेः नमः। गुरु, धनु, कुंभ और तुला राशि वालों के लिए 18 जून 2014 तक लाभकारी है इसके बाद तुला वृश्चिक और मीन राशि वालों के लिए 18 जून 2014 से 14 जुलाई 2015 तक लाभकारी रहेगा। . कन्या राशि वालों की साढ़े साती 2 नवंबर 2014 को समाप्त होगी और उसी दिन से धनु राशि वालों की साढ़ेसाती प्रारंभ होगी। इसी प्रकार कर्क और मीन राशि वालों का शनि का ढैय्या (2 वर्ष 6 माह) 02 नवंबर 2014 को समाप्त हो जायेगा तथा 02 नवंबर 2014 में सिंह राशि और मेष राशि वालों का शनि ढैय्या (2 वर्ष 6 माह) प्रारंभ होगा। . जिनको शनि की साढ़ेसाती है उन्हें शनि महाराज की आराधना करनी चाहिए तथा मंत्र जाप करनी चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- ऊँ शं शनैश्चरायः नमः। शनि की साढ़ेसाती 02 नवंबर 2014 से वृश्चिक/धनु राशि वालों के लिए कष्टकारी रहेगी। परंतु तुला राशि वालों के लिए साढ़ेसाती का अंतिम 2 वर्ष 6 माह लाभकारी रहेगा। मकर, कुंभ राशि वालों के लिए शनि 02 मई 2017 तक लाभकारी रहेगा। इसी प्रकार गुरु (बृहस्पति), कर्क, मीन, वृश्चिक राशि वालों के लिए लाभकारी रहेगा। . भारतीय जनता पार्टी की राशि वृश्चिक है। यह गुरु (बृहस्पति) 18 जून 2014 से भारतीय जनता पार्टी के लिए लाभकारी रहेगा। श्री नरंद्र मोदी की भी राशि वृश्चिक होने से उनके लिए भी बहुत लाभकारी रहेगा। श्री नरेंद्र मोदी की भी राशि वृश्चिक होने से उनके लिए भी बहुत लाभकारी रहेगा। श्री नरेंद्र मोदी की भी राशि वृश्चिक होने से उनके लिए भी बहुत लाभकारी रहेगा। इनकी लग्न एवं राशि वृश्चिक है और चंद्र में गुरु की अंतर्दशा 04 सितंबर 2013 से 03 जनवरी 2015 तक लाभकारी रहेगा। उन्हें चंद्र-मंगल राजयोग, रुचक पंचमहापुरुष राजयोग है। गुरु-चंद्र ने गज केशरी राजयोग बनाया है समय लाभकारी है। परंतु चंद्र महादशास्वामी बाधक स्थान का स्वामी होने से नुकसानदायक भी है। कोई अनहोनी घटना हो और उन्हें क्षति पहुंचे ऐसा योग भी है। . कांग्रेस पार्टी की राशि कन्या है और शनि की साढ़े साती कन्या राशि को 02 नवंबर 2014 तक है यह समय हानिकारक है। अष्टम स्थान में केतु कष्ट कारक है। यह 12 जुलाई 2014 तक रहेगा।



नव वर्ष विशेषांक  जनवरी 2014

फ्यूचर समाचार पत्रिका के नववर्ष विशेषांक में नववर्ष की भविष्यवाणियों में आपकी राशि तथा भारत व विश्व के आर्थिक, राजनैतिक व प्राकृतिक हालात के अतिरिक्त भारत के लिए विक्रम संवत 2014 का मेदिनीय फल विचार, 2014 में शेयर बाजार, सोना, डालर, सेंसेक्स व वर्षा आदि शामिल हैं। इसके साथ ही करियर में श्रेष्ठता के ज्योतिषीय मानदंड, आपकी राशि-आपका खानपान, ज्योतिष और महिलाएं, कुबेर का आबेरभाव नामक पौराणिक कथा, मिड लाइफ क्राइसिस, जनवरी माह के व्रत-त्यौहार, भागवत कथा, कर्मकांड का आर्विभाव, विभिन्न भावों में शनि का फल तथा चर्म रोग के ज्योतिषीय कारणों पर विस्तृत रूप से जानकारी देने वाले आलेख सम्मिलित हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.