क्या आप जानते हैं ?

क्या आप जानते हैं ?  

. शनि सौरमंडल का गुरु के बाद दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है। गुरु शनि से 20 प्रतिशत बड़ा है। पृथ्वी सौरमंडल में पांचवां सबसे बड़ा ग्रह है। . शनि सौरमंडल के नंगी आंखों से देखे जा सकने वाले पांच ग्रहों में से एक है। . शनि का रिंग सिस्टम बहुत बड़ा है और लगभग 175000 मील तक फैला हुआ है। इतनी दूरी तय करने हेतु अगर पृथ्वी से चलना आरंभ करं तो चंद्रमा तक की आधी दूरी तय हो जाएगी। . कभी-कभी शनि के रिंग गायब हो जाते हैं। वास्तव में गायब नहीं होते परंतु दूर जाते हुए प्रतीत होते हैं। शनि की धुरी पृथ्वी की तरह टेढ़ी है। इसलिए शनि के रिंग पृथ्वी की तरह टेढ़ी है इसलिए शनि के रिंग प्रत्येक 14 वर्षीय अंतराल के बाद गायब हो जाते हैं। . शनि सूर्य के चारों ओर अपनी परिक्रमा पूरी करने में 30 वर्ष का समय लेता है। कई बार शनि के रिंग पूरी खूबसूरती से स्पष्ट दिखाई पड़ते हैं और कभी लगभग पूर्णतया गायब। ऐसा 2008-09 में हुआ था और अब पुनः 2024-25 में यह घटना पुनरावृत्त होगी। . वैज्ञानिक कयास लगाते हैं कि शनि के रिंग 50 मिलियन वर्षों पश्चात पूर्णतया गायब हो जाएंगे। शनि के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण या तो ये शनि के अंदर समा जाएंगे या अंतरिक्ष में विघटित हो जाएंगे। . शनि के 62 चंद्रमा हैं। गुरु के सर्वाधिक 67 चंद्रमा के बाद शनि का दूसरा नंबर है इनमें से कुछ एक जैसे टाइटन आदि विशालकाय हैं। टाइटन सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा चंद्रमा है। परंतु कुछ एक बहुत छोटे व केवल कुछ ही कीलोमीटर के क्षेत्र में फैले हुए हैं। . खगोलशास्त्रियों ने हालिया अनुसंधान द्वारा अनुमान लगाया कि शनि अपनी धुरी पर घूमने में 10 घंटे व 32 मिनट का समय लेता है। . शनि की सूर्य से दूरी उस दूरी से दोगुनी है जितनी सूर्य से गुरु की है। - वैज्ञानिकों का अनुमान है कि शनि का तापमान लगभग-350 Degree F है। पृथ्वी पर रिकार्ड किया गया न्यूनतम तापमान-129 Degree F है। - सूर्य की परिधि में 1600 पृथ्वियां समा सकती हैं। . पृथ्वी पर एक वर्ष 365.256 दिनों का होता है व शनि का एक वर्ष 10,759.22 दिनों का होता है। - पृथ्वी पर एक दिन 24 घंटों का और शनि ग्रह पर एक दिन 10 घंटे 39 मिनट का होता है। . शनि ग्रह पर चलने वाले तूफान महीनों या वर्षों तक चल सकते हैं। वर्ष 2004 में शनि पर आने वाले ‘‘ड्रैगन स्टार्म’’ नामक तूफान में भारी बिजली कड़की थी जो पृथ्वी पर कड़कने वाली बिजली से 1000 गुणा अधिक शक्तिशाली थी।



नव वर्ष विशेषांक  जनवरी 2014

फ्यूचर समाचार पत्रिका के नववर्ष विशेषांक में नववर्ष की भविष्यवाणियों में आपकी राशि तथा भारत व विश्व के आर्थिक, राजनैतिक व प्राकृतिक हालात के अतिरिक्त भारत के लिए विक्रम संवत 2014 का मेदिनीय फल विचार, 2014 में शेयर बाजार, सोना, डालर, सेंसेक्स व वर्षा आदि शामिल हैं। इसके साथ ही करियर में श्रेष्ठता के ज्योतिषीय मानदंड, आपकी राशि-आपका खानपान, ज्योतिष और महिलाएं, कुबेर का आबेरभाव नामक पौराणिक कथा, मिड लाइफ क्राइसिस, जनवरी माह के व्रत-त्यौहार, भागवत कथा, कर्मकांड का आर्विभाव, विभिन्न भावों में शनि का फल तथा चर्म रोग के ज्योतिषीय कारणों पर विस्तृत रूप से जानकारी देने वाले आलेख सम्मिलित हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.