उपयोगी टोटके

उपयोगी टोटके  

कुछ उपयोगी टोटके छोटे-छोटे उपाय हर घर में लोग जानते हैं, पर उनकी विधिवत् जानकारी के अभाव में वे उनके लाभ से वंचित रह जाते हैं। इस लोकप्रिय स्तंभ में उपयोगी टोटकों की विधिवत् जानकारी दी जा रही है। संतान प्राप्ति के लिए: नींबू की जड़, उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र में लाकर व इसे गाय के दूध में मिलाकर निःसंतान औरत को पिला देने से संतान की प्राप्ति होती है। इस मंत्र से 7 बार जाप करें ‘ऊँ महावीराय नमः।’ चंपा की जड़, हस्त नक्षत्र में लाकर बच्चे के गले में उक्त मंत्र को 7 बार पढ़ कर ‘‘ऊँ महावीराय नमः मंत्र से धूप देकर गले में बांधने से ऊपरी हवा का प्रकोप चला जाता है। चमेली की जड, अनुराधा नक्षत्र में लाकर धूप देकर ‘‘ ऊँ रामदूताय नमः’’ इस मंत्र से 7 बार जाप करने से जो शत्रु हैं, वे मित्र बन जाते हैं। शत्रु शमन के लिए साबुत उड़द की काली दाल के 38 दाने तथा चावल के 40 दाने मिलाकर जमीन के अंदर दबा दें व इसके ऊपर नींबू का रस निचोड़ें व अपने शत्रु का नाम लेते रहें। उसका शमन हो जायेगा। यह क्रिया शनिवार को करें। रोग से छुटकारा पाने के लिए एक रूपये का सिक्का लेकर रात को सिरहाने रख कर सो जायंे। प्रातः उठकर उस सिक्के को शमशान में जाकर फंेक दें तो रोग से छुट्टी मिल जायेगी। को पढ़कर।’’ ससुराल की ओर फेंक दें। तो लड़की का वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा। लड़की की विदाई के समय एक तांबे के लोटे में गंगाजल भरकर उसमें थोड़ी-सी हल्दी और एक पीले रंग का सिक्का या कोई धातु आगे की ओर फेंक दें। लड़की का वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा। घर व व्यापारिक स्थल पर जो मुख्य द्वार है उसक एक कोने को गंगाजल से धोकर उस स्थान पर स्वास्तिक चिन्ह बना दें तथा प्रतिदिन चने की दाल तथा गुड़ रख कर इसकी पूजा करते रहें। यह क्रिया, शुक्ल पक्ष के बृहस्पतिवार को प्रारंभ कर के 11 बृहस्पति तक करें तथा गणेश जी के चित्र को सिंदूर लगाकर उनके सामने लड्डू का भोग लगाकर कहें ‘जै गणेश, काटो क्लेश।’ व्यापार निर्बाध और लाभकारी चलेगा। धन की प्राप्ति के लिए शनिवार की शाम को काले उड़द के दाने लेकर पीपल के पत्ते पर रख लें। इसके ऊपर दही व सिंदूर डाल दें। यह क्रिया शनिवार को ही करें। ‘‘ऊँ प्राप्ताय नमः, ऊँ प्राप्ताय नमो नमः मंत्र से 7 बार बोलकर कहकर पीपल क वृक्ष के नीचे रख दें। 7 शनिवार यह क्रिया करें। घर में बरकत आजाएगी।



हस्तरेखा विशेषांक  April 2017

फ्यूचर समाचार के हस्त रेखा विशेषांक अप्रैल 2017 में हस्त रेखा विज्ञान सम्बन्धित विस्तृत जानकारी, विभिन्न शोधपरक लेख जिनमें अंगूठे का महत्व, हथेली में विभिन्न रोगों के लक्षण, जातक नौकरी करेगा अथवा व्यवसाय तथा हस्तरेखा से अनुमानित आयु आदि प्रमुख हैं। सत्य कथा में चैन्नई की राजनेता शशिकला के सितारे तथा विचार गोष्ठी में हस्तरेखा एवं कुण्डली मिलान के अतिरिक्त डाॅ. राकेश कुमार सिन्हा का पावन स्थल नामक स्थायी स्तम्भ में श्री हरिहर क्षेत्र का वर्णन अत्यन्त रोचक है। वास्तु परामर्श में फ्लैट का वास्तु विश्लेषण नामक विषय पर चर्चा की गई है। सम्पादकीय में यह दर्शाया गया है कि किस प्रकार हस्त रेखाओं का ज्ञान स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए विशेष रूप से उपयोग में लाया जा सकता है। अन्य स्थायी स्तम्भों में दी गई जानकारी भी नियमित पाठकों के लिए उपायोगी सिद्ध होगी।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.