बहुत गुण है शंख में

बहुत गुण है शंख में  

बहुत गुण हैं शंख में डाॅ. परवेश शंख नाद का अपना एक विशेष महत्व है। इसके गुणों के बारे में आधुनिक वैज्ञानिकों को कोई भी संदेह नहीं। इस शंख ध्वनि को सुनकर विश्वविख्यात भारतीय वैज्ञानिक डाॅ. जगदीश चंद्र बोस अचानक अचंभित रहे गये थे। हर दिन सुनाई देने वाले शंखनाद में उन्हें ऐसा कुछ दिखाई देने लगा, जो कुŸाों के करुण चीतकार तथा रुदन का कारण बनता है, मानो उन पर किसी भारी चीज का आघात किया हा।े यह तथ्य मंदिरों में भगवान की आरती के बाद बजाए जाने वाले शंख की आवाज से उनके सामने स्पष्ट होकर उभरा। शंख को लेकर शोध करते-करते डाॅ. बोस इस नतीजे पर पहुंचे कि शंख फूंके जाने पर उसके विशिष्ट आकार के कारण, उससे एक सर्पिल ध्वनि निकलती है जिसम ंे कीटाण् ाुनाशक क्षमता होती है। वैज्ञानिक बोस ने अपने शोध कार्य द्वारा जो कुछ प्रमाणित किया वह प्राचीनकाल के ऋषि-मुनियों और विद्वानों को पहले ही मालूम था। योगियों एवं साधकों का मानना है कि शंख बजाने से न केवल फेफड़े पुष्ट होते हैं, बल्कि आंते भी सुव्यवस्थित रहती हैं। शंख बजाने वाले तथा उसकी आवाज सुनने वाले, दोनों के लिए लाभदायक है। कहा जाता है कि एक महान साधक शंख ध्वनि से वर्षा भी रोक देते थे। वैदिक मान्यता है कि शंख को विजय घोष का प्रतीक माना जाता है। शुभ कार्य करते समय शंख नाद से शुभता का अत्यधिक प्रचार होता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से शंख बजना विशेष लाभदायक है। दक्षिणावर्ती और मोती शंख ऐसे शंख हैं जिनके उपयोग से हम जीवन की अनेक परेशानियों व समस्याओं से मुक्ति पा सकते हैं। दक्षिणावर्ती शंख को लक्ष्मी-प्रिय लक्ष्मी-भ्राता, लक्ष्मी-सहोदरा आदि नामों से जाना जाता है। वेदों में इसे शत्रुओं को परास्त करने वाला, पापों से रक्षा करने वाला, राक्षसों और पिशाचों को वशीभूत करने वाला, रोग और दरिद्रता को दूर करने वाला बताया गया है।



यंत्र, शंख एवं दुर्लभ सामग्री विशेषांक  जुलाई 2012

फ्यूचर समाचार पत्रिका के यंत्र शंख एवं दुर्लभ सामग्री विशेषांक में शंख प्रश्नोत्तरी, यंत्र परिचय, रहस्य, वर्गीकरण, महिमा, शिवशक्ति से संबंध, विश्लेषण तथा यंत्र संबंधी अनिवार्यताओं पर प्रकाश डाला गया है। इसके अतिरिक्त श्रीयंत्र का अंतर्निहित रहस्य, नवग्रह यंत्र व रोग निवारक तेल, दक्षिणावर्ती शंख के लाभ, पिरामिड यंत्र, यंत्र कार्य प्रणाली और प्रभाव, कष्टनिवारक बहुप्रभावी यंत्र, औषधिस्नान से ग्रह पीड़ा निवारण, शंख है नाद ब्रह्म एवं दिव्य मंत्र, बहुत गुण है शंख में, अनिष्टनिवारक दक्षिणावर्ती शंख, दुर्लभ वनस्पति परिचय एवं प्रयोग, शंख विविध लाभ अनेक आदि विषयों पर विस्तृत, ज्ञानवर्द्धक व अत्यंत रोचक जानकारी दी गई है। इसके अतिरिक्त क्या नरेंद्र मोदी बनेंगे प्रधानमंत्री, प्रमुख तीर्थ कामाख्या, विभिन्न धर्म एवं ज्योतिषीय उपाय, फलादेश प्रक्रिया की आम त्रुटियां, नवरत्न, वास्तु परामर्श, वास्तु प्रश्नोतरी, विवादित वास्तु, यंत्र समीक्षा/मंत्र ज्ञान, हेल्थ कैप्सुल, लाल किताब, ज्योतिष सामग्री, सम्मोहन, सत्यकथा, आदि विषयों को भी शामिल किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.