सर्वोपयोगी कृपा यंत्र

सर्वोपयोगी कृपा यंत्र  

सर्वोपयोगी कृपा यंत्र रेखा कल्पदेव श्री शिवशंकर कृपा यंत्र भगवान शिव सभी इच्छाओं को जल्दी पूरा करने वाले देव हैं। भगवान शिवशंकर कृपा यंत्र की उपासना व्यक्ति के जीवन को कलहमुक्त बनाने वाली कही गयी हैं। अक्सर सांसारिक जीवन में विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। इस स्थिति में भगवान शिवशंकर कृपा यंत्र की पूजा अंदर से मन और स्वभाव में बदलाव लाकर बाहरी रूप से सुख प्रदान करती है। देवाधिदेव की उपासना सर्वोपरि मानी गयी है। श्री शिवशंकर कृपा यंत्र की साधना से आर्थिक और सामाजिक संकट दूर होते हैं और साधक की आजीविका, व्यवसाय आदि में उन्नति और घर-परिवार में सुख-समृद्धि के साथ-साथ मनोवांछित फल भी प्राप्त होते हैं। श्री शिवशंकर कृपा यंत्र अदभुत शक्ति संपन्न, धन-संपत्ति, सुख-वैभव प्रदान करने वाला यंत्र है। यदि इसे विधिपूर्वक स्थापित कर नियमित पूजन किया जाए तो सभी मनोरथ पूर्ण होते हैं तथा जो इसे रोज धूप-दीप दिखाता है, वह संसार के सभी सुखों का भोग करता है। श्री शिवशंकर कृपा यंत्र उपयोगिता इस यंत्र में स्थापित अन्य अनेक शक्तियों के सम्मिलित होने के कारण यह यंत्र अत्यधिक प्रभावशाली यंत्र बन गया है। यंत्र की कृपा से भगवान शिव की कृपा सदैव के लिए प्राप्त होती है। घर-परिवार में इसका नित्य पूजन करने से पारिवारिक समृद्धि में वृद्धि होती है। यह यंत्र दाम्पत्य-सुख प्रदान करने वाला यंत्र है। इस यंत्र की निर्मलता के समान ही साधक का जीवन भी सभी प्रकार की मलिनताओं से परे हो जाता है। मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए यह दुर्लभ यंत्र है। श्री शिवशंकर कृपा यंत्रम् विशेषता 1. श्री शिवशंकर कृपा यंत्रम् कूर्मपृष्ठ पर स्थापित है। 2. इस यंत्र में भगवान् शिव की प्रतिमा कच्छप पीठ पर स्थापित है। (कूर्म को साक्षात श्री विष्णु का स्वरूप माना गया हैं) 3. भगवान शिव पर छत्र रूप मे श्री शिव यंत्र है। 4. शिव यंत्र पर देवाधिदेव का त्रिशूल यंत्र को अदभुत शक्तियुक्त बना रहा है। श्री कुबेर कृपा यंत्र शास्त्रों के अनुसार दरिद्रता, भाग्यहीनता, आर्थिक उन्नति के बाधक होने पर जीवन की विषमताओं को दूर करने के लिए श्री कुबेर कृपा यंत्र आश्चर्यजनक रूप से फल देता है। श्री कुबेर यंत्र धन से जुडी सभी समस्याओं का समाधान है। अगर कोई व्यक्ति धनहानि का सामना कर रहा है। चाहकर भी अपने कर्जों का भुगतान नहीं कर पा रहा है। इस स्थिति में घर में श्री कुबेर यंत्र की स्थापना करना लाभकारी सिद्ध हो सकता है। इस यंत्र से भगवान् कुबेर की कृपा प्राप्त होगी जिससे धन संबंधी समस्याओं का निराकरण होगा। कुबेर देवताओं के कोषागार के अध्यक्ष माने जाते हैं। श्री कुबेर कृपा यंत्र जीवन की सभी श्रेष्ठता को देने वाला, ऐश्वर्य, लक्ष्मी, दिव्यता, पद-प्राप्ति, सुख-सौभाग्य वृद्धि, अष्ट सिद्धि, नव निधि, आर्थिक विकास, संतान सुख, उत्तम स्वास्थ्य, आयु वृद्धि और समस्त भौतिक और परासुख देने में समर्थ है। कुबेर कृपा यंत्र धनेश कुबेर का यंत्र है। इस यंत्र के प्रभाव से यक्षराज कुबेर प्रसन्न होकर अतुल संपत्ति की रक्षा करते हैं। जहां लक्ष्मी प्राप्ति की अन्य साधनाएं असफल हो जाती हैं, वहीं इस यंत्र की उपासना से शीघ्र लाभ होता है। कुबेर यंत्र पूजा घर के अलावा, गल्ले, तिजोरी, व बंद अलमारी में स्थापित किया जा सकता है। लक्ष्मी-प्राप्ति की साधनाओं में कुबेर यंत्र अपना महत्वपूर्ण स्थान रखता है। श्री कुबेर कृपा यंत्र उपयोगिता कुबेर यंत्र की शुभता से साधक को ऋण और दरिद्रता से शीघ्र मुक्ति मिलती है। यह बेरोजगारी को दूर हटाता है। व्यापारियों को व्यापार में उन्नति देता है। यह यंत्र अपने आप में अचूक, स्वयंसिद्ध और ऐश्वर्य प्रदान करने वाला है। इस यंत्र की उपासना से रंक भी धनवान होता है। श्री कुबेर यंत्र वितीय संभावनाओं को बढ़ता हैं, जीवन और पेशे में ठहराव, व्यापार हीनता, दुर्भाग्य नाश और भाग्योदय करने का कार्य करता हैं। श्री कुबेर कृपा यंत्र अचूक और अद्वितीय यंत्र है। जिस घर में इस यंत्र की उपासना होती हैं, उस घर में धन की कभी कमी नहीं होती है। श्री कुबेर कृपा यंत्र विशेषता श्री कुबेर कृपा यंत्र कूर्म-पृष्ठ पर स्थापित है। कुबेर कृपा यंत्र में देव कुबेर सिंहासन पर विराजित हैं। कुबेर जी पर श्री कुबेर यंत्र अंकों में छत्र रूप में है। कुबेर यंत्र में सबसे ऊपर ‘ऊं’’ शक्ति चिन्ह है। श्री साई नाथ कृपा यंत्र श्री साई नाथ अपने आराधक को सुख-समृद्धि प्रदान करने के साथ ही उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। यह यंत्र समृद्धि, शुद्धता, व पवित्रता का प्रतीक है और इसके प्रभाव से दरिद्रता, तनाव, कर्ज व रोग का उन्मूलन होता है। यह यंत्र विशेष यंत्रों की श्रेणी मे आता है। श्री साईं नाथ यंत्र के चमत्कारी प्रभाव से व्यक्ति मधुर बोलने वाला, कत्र्तव्यनिष्ठ, ईश्वर भक्त, उदार, सदाचारी, धर्मनिष्ठ, माता-पिता की भक्ति भावना से सेवा करने वाला, पुण्यात्मा, क्षमाशील, दानवीर, बुद्धि मान, दयावान और गुरु की सेवा करने वाला बनता है। इस यंत्र की शक्तियों के फलस्वरूप व्यक्ति पर साईं कृपा सदैव के लिए बनी रहती हैं। जिस व्यक्ति पर श्री साईं नाथ की कृपा हो जाती हैं उस व्यक्ति के कठिन से कठिन कार्य भी सहजता के साथ पूरे होते हैं। जिन व्यक्तियों का भाग्य निर्बल हो, हर संभव प्रयास करने पर भी नौकरी नहीं लगती, और उसमें बाधाएं आती हैं, परीक्षा में योग्यता अनुसार अंक प्राप्त नहीं होते अथवा परिवार में सुख-शांति का अभाव रहता है, परिश्रम और ईमानदारी से कार्य करने पर भी जीवन में सफलता के लिए संघर्ष का सामना करना पड़ता है, इस स्थिति में यह यंत्र लाभकारी यंत्र हैं। श्री साईं नाथ कृपा यंत्र के शुभ प्रभाव से व्यक्ति के सभी कार्य पूर्ण होते हैं। व्यापार, विदेश गमन, गृहस्थ जीवन, नौकरी पेशा आदि में सुख व समृद्धि प्राप्त होती है।



कांवरिया विशेषांक  आगस्त 2012

फ्यूचर समाचार पत्रिका के कावंरिया विशेषांक में शिव पूजन और कावंर यात्रा की पौराणिकता, पूजाभिषेक यात्रा, कावंर की परंपरा, विदेशों में शिवलिंग पूजा, क्या कहता है चातुर्मास मंथन, कावंरियों का अतिप्रिय वैद्यनाथ धाम, शनि शांति के अचूक उपाय, सर्वोपयोगी कृपा यंत्र, रोजगार प्राप्त करने के उपाय, आदि लेखों को शामिल किया गया है। इसके अतिरिक्त वास्तु परामर्श, वास्तु प्रश्नोतरी, विवादित वास्तु, यंत्र समीक्षा/मंत्र ज्ञान, हेल्थ कैप्सुल, लाल किताब, ज्योतिष सामग्री, नंदा देवी राज जात, क्यों होता है अधिकमास, रोग एवं उपाय, श्रीगंगा नवमी, रक्षा बंधन, कृष्ण जन्माष्टमी व्रत, धार्मिक क्रिया कलापों का वैज्ञानिक आधार, सम्मोहन, मुहूर्त विचार, पिरामिड एवं वास्तु, सत्यकथा, सर्वोपयोगी कृपा यंत्र, आदि विषयों पर गहन चर्चा की गई है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.