अंकशास्त्र के अनुसार दैनिक भविष्य

अंकशास्त्र के अनुसार दैनिक भविष्य  

अंक शास्त्र के अनुसार दैनिक भविष्यफल डाॅ. निर्मल कोठारी भविष्यफल जानने की विधि सर्व प्रथम आप अपनी जन्मकुंडली से अपनी राशि पता कर लें। इसके पश्चात, आपको यह जानना है कि आज चंद्रमा किस राशि में है। इसकी जानकारी पंचांगों, अखबारों एवं पत्रिकाओं से पा सकते हैं। अपनी राशि से चंद्रमा किस राशि में है, गणना कर लें और उसके पश्चात जो अंक मिले उस अंक के हिसाब से नीचे लिखे क्रमांक के अनुसार आज का अपना भविष्यफल जान लें- आपको अच्छे वस्त्र, स्वादिष्ट भोजन एवं स्वर्णाभूषणों की प्राप्ति होगी। 1. आराम की नींद सोएंगे, मित्रों से मुलाकात होगी। 2. आपके कार्यों में रुकावटें आयेंगी। आय से अधिक खर्च होगा। 3. किसी कार्य से आपको लाभ होगा, सफलता मिलेगी, स्वास्थ्य में सुधार होगा और अनायास धन की प्राप्ति हो सकती है। 4. आप मानसिक अशांति महसूस करेंगे। किसी कारण यात्रा करनी पड़ सकती है या मित्रों से अनबन हो सकती है। 5. आपका स्वास्थ्य नर्म रहेगा। प्रयासों के बावजूद सफलता नहीं मिलेगी। अपनों के कारण मानसिक परेशानी हो सकती है। 6. आपको धन की प्राप्ति होगी। योजनाओं का विस्तार होगा। 7. आपको सुखद जीवन की अनुभूति होगी। लाभ मिल जाएगा। तालमेल से अटका काम बना लेंगे। सम्मान की प्राप्ति होगी। 8. आपका स्वास्थ्य कमजोर हो सकता है। धन हानि की संभावना है। 9. समय प्रतिकूल है। शत्रु हानि पहुंचाने का प्रयास करेंगे। सावधानी रखें। 10. धन की प्राप्ति होगी। रुके कार्य पूरे होंगे। संपत्ति का विस्तार होगा। 11. किसी खास व्यक्ति से मुलाकात होगी। मन प्रसन्न रहेगा। घर का वातावरण उल्लासपूर्ण रहेगा। मनोरंजन पर धन खर्च होगा। 12. समय खराब है। अपनों से ही विरोध बढ़ेगा। आकस्मिक धन का व्यय होगा। यात्रा संभव है।



हस्तरेखा विशेषांक  April 2017

फ्यूचर समाचार के हस्त रेखा विशेषांक अप्रैल 2017 में हस्त रेखा विज्ञान सम्बन्धित विस्तृत जानकारी, विभिन्न शोधपरक लेख जिनमें अंगूठे का महत्व, हथेली में विभिन्न रोगों के लक्षण, जातक नौकरी करेगा अथवा व्यवसाय तथा हस्तरेखा से अनुमानित आयु आदि प्रमुख हैं। सत्य कथा में चैन्नई की राजनेता शशिकला के सितारे तथा विचार गोष्ठी में हस्तरेखा एवं कुण्डली मिलान के अतिरिक्त डाॅ. राकेश कुमार सिन्हा का पावन स्थल नामक स्थायी स्तम्भ में श्री हरिहर क्षेत्र का वर्णन अत्यन्त रोचक है। वास्तु परामर्श में फ्लैट का वास्तु विश्लेषण नामक विषय पर चर्चा की गई है। सम्पादकीय में यह दर्शाया गया है कि किस प्रकार हस्त रेखाओं का ज्ञान स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए विशेष रूप से उपयोग में लाया जा सकता है। अन्य स्थायी स्तम्भों में दी गई जानकारी भी नियमित पाठकों के लिए उपायोगी सिद्ध होगी।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.