बहुत चमत्कारी रत्न है कटहला

बहुत चमत्कारी रत्न है कटहला  

बहुत चमत्कारी रत्न है कटहला डाॅ. परवेश यह बैंगनी, नीला और श्वेत आदि रंगों में पाया जाने वाला पारदर्शी, स्निग्ध, नरम और चमकदार रत्न है। मगर यह जितने गहरे बैंगनी रंग का होगा, वह उतना ही अच्छा होता है। इसकी खानें ब्राजील, अफ्रीका और भारत में हैं। मगर यह ब्राजील का उŸाम माना जाता है। यह रत्न अचानक होने वाली दुर्घटनाओं से बचाता है। किसी पर जादू-टोना, किया-कराया है, उसके लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है। आम तौर पर लोग कहते हैं कि पैसा हाथ में टिकता नहीं, आता बाद में और चला पहले जाता है। यह रत्न फाइनेंशियल स्टैबिलिटी के लिए बहुत काम का है। इस रत्न की एक और विशेषता है कि जो लोग ज्यादा शराब पीते हैं, अगर उनको कटहला धारण कराया जाए तो वे भी आहिस्ता-आहिस्ता शराब छोड़ देते हैं। दूसरी बुराइयों से भी आदमी धीरे-धीरे छुटकारा पा लेता है। जिन जातकों का जन्म 21 फरवरी से 20 मार्च के बीच होता है, वे भी अगर इसे धारण करें तो उनके लिए भी अच्छा है। मीन राशि वाले जातकों को तो कटहला तुरंत धारण करना चाहिए। अगर अविवाहित लड़कियां इसे धारण करें तो उन्हें बहुत संुदर और प्यार करने वाले पति की प्राप्ति होती है। ग्रीक लोगों का विश्वास है कि इसे धारण करने वाले जातकांे का जीवन बहुत खुशहाल होता है और उनके मन में दूसरों के प्रति दया की भावना पैदा हो जाती है। जो लोग गलत आदतों का शिकार हो जाते हैं, उनके लिए भी यह रत्न रामबाण की तरह काम करता है। जो लोग चिकित्सक, वैज्ञानिक, गणितज्ञ और रिसर्च करने वाले विद्वान हैं उनके लिए भी यह बहुत मुफीद रत्न है। सरकारी कर्मचारी अगर अपनी पसंद की जगह पर ट्रांसफर करवाना चाहते हैं या प्रमोशन चाहते हैं तो उनके लिए भी यह रत्न बहुत मदद कर सकता है। जिन जातकों की जन्म तारीख 3, 4 और 8 है, उनको भी यह रत्न धारण करना चाहिए। कुंभ राशि वालों के लिए भी यह रत्न बहुत काम करता है। अगर कहा जाये कि यह रत्न गुणों की खान है तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। वास्तव में यह बहुत चमत्कारी रत्न है।



रत्न विशेषांक  मई 2012

फ्यूचर समाचार पत्रिका के रत्न विशेषांक में रत्न चयन व धारण विधि, रत्न: सकारात्मक ऊर्जा स्रोत, नवरत्न, उपरत्न, रत्नों की विविधता, वैज्ञानिक विश्लेषण एवं चिकित्सीय उपादेयता, लग्नानुसार रत्न चयन, ज्योतिषीय योगों से तय करें रत्न चयन, रत्नों की कार्य शौली का उपयोग, बुध रत्न पन्ना, चिकित्सा में रत्नों का योगदान, कई व्याधियों की औषधि है करंज तथा अन्य अनेकानेक ज्ञानवर्द्धक आलेख शामिल किये गए हैं जैसे भविष्यकथन की पद्धतियां, फलित विचार, वास्तु परामर्श, वास्तु प्रश्नोतरी, विवादित वास्तु, यंत्र समीक्षा/मंत्र ज्ञान, हेल्थ कैप्सुल, लाल किताब, ज्योतिष सामग्री, सम्मोहन, सत्यकथा, स्वास्थ्य, पावन स्थल, क्या आप जानते हैं? आदि विषयों को भी शामिल किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.