विभिन्न राशियों में बृहस्पति का परिणाम

विभिन्न राशियों में बृहस्पति का परिणाम  

मेष मेष राशि में बृहस्पति के होने पर व्यक्ति सुंदर, सुशील जीवन साथी तथा अच्छी संतान का भागी होता है। वह समाज में सम्मान पाता है। वह भाग्यशाली सुविधापूर्ण जीवन वाला तथा जीवन भर लोगों के आकर्षण को केंद्र रहता है। वृष वृष राशि में बृहस्पति जातक को बहुत आय वाला तथा धन संग्रह करने वाला बनाता है। वह साहसी तथा विरोधियों से कष्ट और असुविध् का भागी होता है। शारीरिक व्याध् और पारिवारिक तनावों को पाने वाला तथा मानसिक चिन्ताओं से समय-समय पर पीड़ित रहता है। मिथुन यदि बृहस्पति मिथुन राशि में हो तो जातक बु़िद्धमान तथा चरित्रवान होता है। वह धार्मिक गतिविधियों में संलग्न रहता है तथा जीवन साथी के कारण दुखों का भागी होता हैं। कर्क कर्क राशि में बृहस्पति जातक को सरकार द्वारा लाभ प्रदान कराता है। वह अधिकारी तथा अनेक लोगों की पसन्द होता है। वह सरकार में मंत्री या सम्यक उच्च पद का अधिकारी होता है तथा जीवन भर सुख सुविध् से रहता है। सिंह सिंह राशि में बृहस्पति व्यक्ति को धनी, प्रसिद्ध और अति बुद्धिमान बनाता है। वह शिक्षा के क्षेत्र में प्रसिद्धि पाता है। संतान से सुख, राज्य से सम्मान तथा सभी के द्वारा आदर का पात्र होता है। कन्या कन्या राशि में बृहस्पति जातक को सफल व्यवसायी तथा अपनी और प्रसिद्ध लोगों की संगति प्रदान करता है। परिवार तथा संतान से सुख तथा अधिकारी पद पाने वाला होता है। कई बार लोगों के अकारण विरोध का सामना करना पड़ता है तथा इसी कारण कभी-कभी अपयश का भागी होता है। तुला तुला राशि में बृहस्पति जातक को चंचल, अस्थिर मना, विपरीत मति तथा अपने ही परिवार के सदस्यों से विरोध का भागी बनाता है। वह जातक को व्यवसाय में असफलता तथा संतान से असंतोष व दुख पाने वाला बनाता है। वृश्चिक वृश्चिक राशि में यदि बृहस्पति हो तो व्यक्ति की मानसिक योग्यता का विद्वानों में मान होता है। यह व्यक्ति प्रसिद्ध, अचल संपत्ति का स्वामी तथा जीवन में बहुत संपदावान होता है। धनु धनु राशि में बृहस्पति जातक को ईश्वर से डरने वाला तथा असहाय लोगों की मदद करने वाला बनाता है। वह धार्मिक, चरित्रवान तथा प्राचान ग्रंथों में रुचि रखने वाला होता है। मकर मकर राशि का बृहस्पति जातक को अपनों के सुख से वंचित तथा जीवन में विभिन्न प्रकार के विरोधों का सामना करने वाला बनाता है। वह विदेश में रहने वाला, गंभीर रोगों से कष्ट पाने वाला, आर्थिक चिन्ताओं वाला, जीवन साथी तथा संतान से दुख पाने वाला एवं जीवन में सामान्यतः दुखों का भागी होता है। कुंभ यदि बृहस्पति कुंभ राशि में स्थित हो तो जातक का भाग्य विशेष उज्जवल होता है तथा वह शासन द्वारा लाभ व सम्मान का भागी होता है। वह धनी, बुद्धिमान, विभिन्न कलाओं का ज्ञाता तथा जीवन साथी एवं संतान से सुख लाभ पाने वाला होता है। मीन मीन राशि में बृहस्पति जातक को तकनीकी क्षेत्र में ख्याति प्रदान करता है। वह गणमान्य लोगों व सरकार द्व रा सम्मानित किया जाता है। वह स्वतंत्र, निश्चित तथा सभी प्रकार से सुख सुविधा पूर्ण आराम का जीवन व्यतीत करता है।



दुगर्तिनाशिनी मां दुर्गा विशेषांक  अकतूबर 2013

फ्यूचर समाचार पत्रिका के दुगर्तिनाशिनी मां दुर्गा विशेषांक में भगवती दुर्गा के प्राकट्य की कथा, महापर्व नवरात्र पूजन विधि, नवरात्र में कुमारी पूजन, नवरात्र और विजय दशमी, मां के नौ स्वरूप, मां के विभिन्न रूपों की पूजा से ग्रह शांति, नवरात्रि की अधिष्ठात्री देवी भगवती दुर्गा, काली भी ही दुर्गा का रूप तथा देवी के 51 शक्तिपीठों का परिचय आदि ज्ञानवर्धक आलेख सम्मिलित किए गए हैं। इसके अतिरिक्त गोत्र का रहस्य एवं महत्व, लोकसभा चुनाव 2014, संस्कृत कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग हेतु सर्वश्रेष्ठ भाषा, अंक ज्योतिष के रहस्य, कुंडली मिलान एवं वैवाहिक सुख, विभिन्न राशियों में बृहस्पति का फल व गंगा की उत्पत्ति की पौराणिक कथा आदि आलेख भी ज्ञानवर्धक व अत्यंत रोचक हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.