84 रत्न: एक नजर में

84 रत्न: एक नजर में  

व्यूस : 16572 | जून 2009
84 रत्नः एक नजर में हिंदी अंग्रेजी विवरण स्वामी मूल्य प्रति कैरेट माणिक त्नइल यह जितना अधिक लाल रंग का होता है, उतना ही सूर्य बर्मा माणिक 10,000 रुपये, कीमती होता चला जाता है। 24 कैरेट के ऊपर के अन्य 25 से 1,000 रुपये माणिक को लाल कहा जाता है, जो बहुमूल्य होता है। माणिक हल्के गुलाबी रंग से गहरे लाल तथा श्याम आभायुक्त भी मिलते हैं। हीरा क्पंउवदक हीरा जितना अधिक सफेद एवं बिना दाग के शुक्र छोटे पीस 20,000, रुपये चमकीला होगा, उतना ही अधिक महंगा होगा। वैसे बड़ा पीस एक लाख रुपये हीरा सफेद, पीला, गुलाबी, लाल, काला तथा कोका से ऊपर कोला रंग में मिलता है। हीरे का उपयोग, पहनने के अलावा, औद्योगिक क्षेत्र में भी होता है। पन्ना म्उमतंसक पन्ना हरे तोते के रंग का, मोर की गर्दन के रंग का, हरी बुध 30 रुपये से 5,000 रुपये झांई लिये होता है। पन्ने में जाला होना अनिवार्य है। नीलम ैंचचीपतम जो नीलम गहरे नीले रंग का होता है, उसे इंद्रमणि शनि 500 से 10,000 रुपये तथा हल्के नीले रंग का, बीच में सफेदी लिए, उसे जलनील कहा जाता है। नीलम में जब नीले रंग के साथ लाल रंग भी आता है, तब उसे खूनी नीलम कहा जाता है। पुखराज ल्मससवू पुखराज पीला, सफेद, हरा, लाल एवं नीले रंग में गुरु 250 से 7,000 रुपये ैंचचीपतम आता है। आजकल बाजार में ‘हीटेड’ भी चल रहा है, जिसका पीला रंग कुछ समय में गायब हो जाता है। लहसुनिया ब्ंजश्े म्लम इसमें बिल्ली की आंख जैसा सूत, या एक रेखा केतु 20 से 4,000 रुपये रहती है, जो घुमाने पर इधर-उधर घूमती नजर आती है। इसका रंग पीला तथा हरापन, या स्याही का रंग लिये होता है। गोमेर्द पतबवद इसका रंग गोमूत्र जैसा होता है। आजकल बाजार में राहु 15 से 2,000 रुपये काले, पीले, लाल, तथा कोका कोला जैसे रंग के गोमेद मिल रहे हैं। मोती च्मंतस मोती सफेद, गुलाबी, पीलापन लिये तथा काले रंग में चंद्र 15 से 60 रुपये कल्चर्ड, मिलते हैं। आजकल बाजार में ‘कल्चर्ड’ मोती 5,000 से 10,000 रुपये अधिक मात्रा में चल रहे हंै। बसरा मोती मूंगा ब्वतंस यह लाल, सिंदूरी तथा सफेद रंग में मिलता है। मंगल 70 से 150 रुपये लालड़ी ैचपदमस यह गुलाब के फूल के रंग का उपरत्न है। यह नरम, सूर्य 20 से 100 रुपये पारदर्शक, संपूर्ण कांति वाला होता है। फिरोजा ज्नतुनवपेम यह फिरोजी रंग का होता है। इसका रंग आसमान शुक्र 20 से 100 रुपये जैसा दिखता है। यह फकीरी रत्न है और इसे हिंदू शनि, तथा मुसलमान अधिक पहनते हैं। बुध रोमनी यह गहरे लाल रंग का, कुछ-कुछ श्यामलता लिये सूर्य 20 से 100 रुपये होता है। जबरजद्द च्मतपकवज यह हल्के से ले कर गहरे हरे रंग का होता है। अच्छा बुध 50 से 500 रुपये जबरजद्द कभी-कभी पन्ने का भान करा देता है। उपल व्चंस यह दूधिया सफेद रंग का होता है। घुमाने पर इसमें शुक्र 50 से 200 रुपये विभिन्न रंग के तारे दिखाई देते हैं। तुरमली ज्वनतउंसपदम यह विभिन्न रंगों में मिलता है। हरा, लाल, पीला, रंग के 15 से 200 रुपये नीला, सफेद इत्यादि। अनुसार नरम ैचपदमस यह गहरा लाल तथा श्याम रंग लिये होता है। सूर्य 100 से 500 रुपये त्नइल सुनेला ब्पजतपदम वत इसका रंग स्वर्ण के रंग जैसा गहरा पीलापन लिये गुरु 15 से 30 रुपये ळवसक ज्वचं्र होता है। यह भार में हल्का होता है। कटैला ।उमजीलेज इसको जामुनिया भी कहते हैं, क्योंकि इसका रंग शनि 20 से 200 रुपये बैंगनी होता है। यह भार में हल्का होता है। कहीं-कहीं इसे बेजनिया भी कहा जाता है। संगसितारा ळवसक यह गेरुए रंग का, कुछ गहरा कत्थई रंग लिए होता गुरु 20 से 50 रुपये ैजवदम है। इसको घुमाने पर अनगिनत सोने के छींटे जैसे बहुत से तारे दिखाई देते हैं। स्फटिक ब्तलेजंस यह बर्फ जैसा सफेद रंग का होता है। स्फटिक की शुक्र 15 से 50 रुपये प्रति ग्राम माला, गणेश, श्री यंत्र, शिव लिंग एवं विभिन्न प्रकार की मूर्तियां आती हैं। यह ठंडा रत्न है। गौदंती डववद यह भी बर्फ जैसे सफेद रंग से ले कर गुलाबी, चंद्र 10 से 50 रुपये प्रति कैरेट ैजवदम नीला, पीला एवं काले रंग में मिलता है। तामड़ा ळंतदमज यह गहरा कत्थई रंग लिये होता है। सूर्य 20 से 50 रुपये लूधया यह मजीठ के समान हरे रंग का होता है। यह गुम मंगल 20 से 50 रुपये पत्थर है और खरल के काम में आता है। मरियम डंतइसम यह सफेद रंग का और अच्छी पाॅलिश का होता है। अल्प मूल्यवान मकनातीस थ्पतम ैजवदम इसे चकमक पत्थर कहते हैं। यह कुछ श्यामपन लिये अल्प मूल्यवान सफेद रंग का होता है। लोहे पर रगड़ने से इससे आग पैदा होती है। सिंदूरिया यह कुछ सफेदी लिये, गुलाबी रंग का, चमकदार अल्प मूल्यवान होता है। नीली यह हल्के से गहरे नीले रंग का होता है और नरम शनि 20 से 50 रुपये होता है। धुनेला ैउवाल यह सुंदर आभायुक्त, धुंए के रंग का होता है। 20 से 50 रुपये फनंतज्र बैरूंज ।ुनंउंतपदम बैरूंज का रंग हल्का हरापन लिये पन्ने के रंग जैसा बुध 20 से 50 रुपये होता है। मरगज श्रंकम यह पन्ने जैसा हल्का हरापन लिए होता है। इसमें बुध 5 से 50 रुपये पानी नहीं होता। पितौनिया ठसववक मलिन पीला, नीला रंग लिए, हरे रंग का तथा लाल 20 से 50 रुपये ैजवदम रंग के छींटे लिये गुम और सख्त अंग का होता है। बांसी ैमंहतममद यह हल्के हरे रंग का होता है। इसकी पाॅलिश कम मूल्य का अच्छी होती है। दुर्वेनज्फ यह धानी रंग का गुम पत्थर है और फर्श बनाने के कम मूल्य का काम आता है। सुलेमानी व्दलग यह काले रंग का पत्थर होता है। इस पर सफेद कम मूल्य का डोरा होता है। आलेमानी यह सुलेमानी की जाति का पत्थर है। इसका रंग कम मूल्य का भूरा तथा इसमें डोरा होता है। जजेमानी यह सुलेमानी की जाति का पत्थर है। इसका रंग कम मूल्य का भूरा तथा इसमें डोरा होता है। सावोर यह हरे रंग का होता है एवं इसपर डोरा रहता है। कम मूल्य का तुरसार्वा पतबवद समुद्री पानी की आभायुक्त, श्वेत, हरा, लाल रंग, कम मूल्य का हल्का विशेष कांति वाला होता है। अहवा यह गुलाबी रंग का होता है एवं इस पर बड़े-बडे़ कम मूल्य का छींटे होते हैं। इसकी खरल और फर्श बनती हैं। इसका अंग कठोर नहीं होता है। अबरी इसका काला एवं पीला रंग अब्रवाला होता है। कम मूल्य का यह संगमरमर जैसा है। लाजवत्र्त स्ंचपे यह नीले रंग का होता है एवं इस पर सफेद छींटे शनि 20 से 50 रुपये स्ं्रनसप होते हैं। कुदूरत यह काले रंग का होता है एवं इस पर सफेद रंग के कम मूल्य का गहरे दाग होते हैं। चित्ती ज्पहमत काला, पीला, सफेद डोरे वाला है। इसे दरियायी कम मूल्य का ैजवदम लहसुनिया भी कहते हैं। संगसन ॅीपजम इसका रंग सफेद अंगूरी होता है। यह चिकना एवं कम मूल्य का श्रंकम कठोर, अपारदर्शक है। लास डंतइसम यह मारबल जाति का पत्थर है। कम मूल्य का मारवर डंतइसम यह अनेक रंग के फर्श एवं मूर्तियां बनाने के काम कम मूल्य का आता है। दाना फिरंग ज्ञपकदमल यह गहरे हरे रंग का होता है। इस पर गुर्दे 10 से 20 रुपये ैजवदम जैसी आकृति बनी होती है। कसौटी ज्वनबी यह काले रंग का पत्थर सोने की परख करने के 20 से 50 रुपये प्रति टुकड़ा ैजवदम उपयोग में आता है। दारचना इस पर कत्थई रंग पर नीले और धूमिल छींटे होते हैं। कम मूल्य का इसकी खरल बनती है। हकीक यह जल से निकलता है। इसका रंग हरापन लिये कुछ कम मूल्य का कल बहार पीला होता है। इसकी मालाएं बहुत बनायी जाती हैं। हालन यह गुलाबी रंग का होता है एवं जब इसको हिलाते हैं, कम मूल्य का तो इसका रंग हिलता दिखाई देता है। सीजरी डवेेंहंजम यह सफेद रंग का होता है। इस पर काले रंग के वृक्ष कम मूल्य का ज्तमम ूंजमत की आकृति होती है। मुबेनज्फ यह सफेद रंग का होता है एवं इस पर बाल के समान कम मूल्य का रेखा होती है। कहरुवा ।उइमत यह लाल पीले रंग का एवं वृक्ष का गोंद होता है। यह 100 से 1000 रुपये नरम और पारदर्शक है। झरना थ्पसजमत यह मटिया पत्थर पानी देने से झर जाता है। कम मूल्य का संगबसरी इसका उपयोग नेत्रों के लिए सुरमा बनाने में होता है। कम मूल्य का दांतला इसे कांसला भी कहते हैं। यह सफेद, पानीदार, कम मूल्य का चिकना, पारदर्शक पत्थर, तुरमुली के समान रंग में मिलता है और दंत रोग में काम आता है। मकड़ा यह हल्का काले रंग का होता है। इसके ऊपर मकड़ी कम मूल्य का का जाला होता है। संगीया ैवंचेजवदम यह सेलखड़ी से मिलताजुलता नरम पत्थर है। कम मूल्य का गूदड़ी यह सीमेंट कांक्रीट के समान पीले रंग का पत्थर है। कम मूल्य का इससे फर्श बनती है। इसकी दड़क भारी होती है। कांसला यह तुरमली जाति का, सब्ज मैलापन लिये हुए, सफेद कम मूल्य का रंग का होता है। सिफरी यह सब्जी आसमानी अपारदर्शक पत्थर, दवा के कम मूल्य का काम आता है। हदीद इसका रंग काला, भूरापन लिये, वजन में भारी है तथा कम मूल्य का इससे दवाएं बनती हैं। हवास इसका रंग सुनहलापन लिये हरे रंग का होता है। यह कम मूल्य का दवा में काम आता है।

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

रत्न विशेषांक  जून 2009

रत्न विशेषांक में जीवन में रत्नों की उपयोगिता: एक ज्योतिषीय विश्लेषण, विभिन्न लग्नों एवं राशियों के लिए लाभदायक रत्नों का चयन, सुख-समृद्धि की वृद्धि में रत्नों की भूमिका. विभिन्न रत्नों की पहचान एवं उनका महत्व, शुद्धि करण एवं प्राण प्रतिष्ठा तथा रोग निवारण में रत्नों की उपयोगिता आदि के विषय में जानकारी प्राप्त की जा सकती है.

सब्सक्राइब


.