शेयर बाजार में मंदी-तेजी

शेयर बाजार में मंदी-तेजी  

ग्रहों की गोचर स्थिति सूर्य 16 सितंबर को 18 बजकर 36 मिनट पर सिंह राशि से कन्या राशि में गोचर करेगा। मंगल 18 सितंबर को 7 बजकर 44 मिनट पर वृश्चिक राशि से धनु राशि में गोचर करेगा। बुध 6 सितंबर को 11 बजकर 24 मिनट पर पश्चिमास्त होगा। 9 सितंबर को बुध 17 बजकर 59 मिनट पर वक्री गति से कन्या राशि से सिंह राशि में प्रवेश करेगा। 20 सितंबर को बुध 1 बजकर 28 मिनट पर पूर्वोदय होगा। 22 सितंबर को बुध 10 बजकर 58 मिनट पर वक्री से मार्गी गति में गोचर करेगा। गुरु 9 सितंबर को 20 बजकर 8 मिनट पर पश्चिमास्त होगा और मासभर कन्या राशि में गोचर करेगा। शुक्र 19 सितंबर को रात्रि के 12 बजकर 6 मिनट पर कन्या राशि से तुला राशि में प्रवेश करेगा। शनि मासभर वृश्चिक राशि में गोचर करेगा। राहु मासभर सिंह राशि में केतु मासभर कुंभ राशि में गोचर करेंगे। 1 सितंबर से 2 सितंबर तक 1 सितंबर को बाजार में मंदी रहेगी। 2 सितंबर को बाजार में मंदी बनी रहेगी। इन दो दिनों मंे लगभग सभी क्षेत्रों में मंदी की स्थिति रहेगी। 5 सितंबर से 9 सितंबर तक पिछले सप्ताह का रूख इस सप्ताह इस सप्ताह भी बना रहेगा। 5 सितंबर से 9 सितंबर तक बाजार में मंदी की स्थिति रहेगी। इस सप्ताह सरकारी, एफ. एम. सी. जी., ऊर्जा क्षेत्रों में अस्थिरता रहेगी। तकनीकी, जमीन जायदाद, इस्पात, कच्चा तेल, सेवा क्षेत्र, सीमेंट, फार्मास्यूटिकल क्षेत्रों की स्थिति ठीक रहेगी। बैंकिंग, निवेश, चीनी, मनोरंजन, वाहन क्षेत्रों में मंदी रहेगी। 12 सितंबर से 16 सितंबर तक 12 सितंबर को बाजार में सरकारी योजनाओं या नीतियों के अंतर्गत लाभ रहेगा जिसकी वजह से बाजार की स्थिति ठीक हो जायेगी। 13 सितंबर को तेजी रहेगी। 14 सितंबर को भी बाजार ठीक रहेगा। 15 व 16 सितंबर को बाजार में काम ठीक-ठाक बना रहेगा। इस सप्ताह तकनीकी, जमीन-जायदाद, इस्पात, कच्चा तेल, सेवा क्षेत्र, सीमेंट, फार्मास्यूटिकल व बैंकिंग क्षेत्रों में तेजी रहेगी। सरकारी, ऊर्जा, एफ. एम. सी. जी में उतार-चढ़ाव रहेगा। चीनी, मनोरंजन, वाहन व निवेश क्षेत्रों में मंदी रहेगी। 19 सितंबर से 23 सितंबर तक 19 सितंबर को बाजार पर विदेशी प्रभाव बनेगा जिसकी वजह से बाजार में अस्थिरता रहेगी, 20 सितंबर से 23 सितंबर तक बाजार सामान्तर व विदेशी बाजारों से दिशा लेकर ही आगे की ओर बढ़ेगा। इस सप्ताह सरकारी, एफ. एम. सी. जी., सीमेंट, फार्मास्यूटिकल, ऊर्जा, चीनी, मनोरंजन, वाहन क्षेत्रों में मंदी रहेगी, निवेश व बैंकिंग क्षेत्र में अस्थिरता रहेगी। तकनीकी, जमीन-जायदाद, इस्पात, सेवा क्षेत्रों में समान्तर रूख रहेगा। 26 सितंबर से 30 सितंबर तक 26 सितंबर को बाजार की स्थिति अच्छी रहेगी। 27 सितंबर को बाजार ठीक रहेगा। 28 सितंबर को बाजार विदेशी बाजारों की तेजी के प्रभाव में रहेगा और सप्ताह के अंत तक यही रूख बना रहेगा। इस सप्ताह चीनी, मनोरंजन, वाहन, तकनीकी क्षेत्रों में मंदी रहेगी। बैंकिंग क्षेत्र में अस्थिरता रहेगी। निवेश क्षेत्र में तेजी रहेगी। तकनीकी, जमीन जायदाद, इस्पात, कच्चा तेल, सेवा क्षेत्रों में मिला-जुला रूख रहेगा। सरकारी, ऊर्जा, एफ. एम. सी. जी., फार्मास्यूटिकल, सीमेंट क्षेत्रों पर दबाव रह सकता है।


पितृ दोष  सितम्बर 2016

फ्यूचर समाचार का वर्तमान अंक विशेष रूप से पितृ दोष को समर्पित है। हमारे धार्मिक ग्रन्थों से हमें पता चलता है कि हमें अपने पितरों को समय-समय पर भोजन व अन्य सामग्रियां प्रदान करते रहना चाहिए। विशेष रूप से भाद्रपद महिने के कृष्ण पक्ष प्रतिपदा से अमावस्या तक के 15 दिन पूर्ण रूप से पितरों की सेवा के लिए ही होते हैं। पुरानों और अन्य धार्मिक ग्रन्थों से पता चलता है कि इस समय हमारे पितर पृथ्वी पर विशेष रूप से अपने सम्बन्धियों से भोजन व सम्मान प्राप्त करने आते हैं तथा इसके बदले में सम्बन्धियों को पूर्ण आशीर्वाद प्रदान करके लौट जाते हैं। इस वर्तमान अंक में बहुत सारे पितृ दोष से सम्बन्धि अच्छे लेख शामिल किए गये हैं। उनमें से कुछ विशेष लेख हैं: जानें क्या होता है पितृ दोष, कैसे कम होता है इसका प्रभाव?, श्राद्ध के साथ करें पितरों को विदा, पितृ पूजा: पहचान एवं उपाय, पितृ दोष से उत्पन्न ऊपरी बाधाएं, पितृ दोष: ज्योतिषीय योग एवं निवारण आदि।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.