कुछ उपयोगी टोटके छोटे-छोटे उपाय हर घर में लोग जानते हैं, पर उनकी विधिवत् जानकारी के अभाव में वे उनके लाभ से वंचित रह जाते हैं। इस लोकप्रिय स्तंभ में उपयोगी टोटकों की विधिवत् जानकारी दी जा रही है।

घर में शांति के लिए :

एक मुट्ठी गुड़, एक मुट्ठी नमक डलिया वाला, एक मुट्ठी गेहूं, दो तांबे के सिक्के डाल कर सफेद कपडे में बांध कर, घर में रखें, तो घर में शांति रहेगी। इसे सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार या रविवार को करें। अगर तांबे के सिक्के की जगह चांदी के सिक्के रखें, तो पति-पत्नी में लड़ाई झगड़े नहीं होते।

घर में बरकत के लिए :

अक्सर सुनने में आता है, कि घर में कमाई तो बहुत है, मगर पैसा टिकता नहीं। तो यह प्रयोग करें। जब आप गेहूं पिसवाने जाते हैं, तो उसमें पहले ग्यारह पत्ते तुलसी के डाल कर, दो केसर डाल कर, थोड़े से गेहूं को मंदिर में रात को रख कर, सुबह उस गेहूं को सारे गेहूं में मिला दें तथा पिसवा लें। फिर घर में बरकत रहेगी।

साझेदारी तथा व्यापार में उन्नति के लिए :

अगर साझेदारी हो और लड़ाई-झगडे़ हों, तो ऐसा करें : किसी दिवाली की रात को कच्चा सूत ले कर उसको रोली से रंग लें। उसको लक्ष्मी माता के आगे रख कर प्रार्थना करें, कि हमारा काम-काज ठीक चले तथा लड़ाई-झगड़े न हों। हमारी साझेदारी बनी रहे तथा व्यापार में उन्नति हो।

घरेलू झगडे़ होने पर :

घर में प्रायः क्लेश रहता है, या छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा होने से इस उपाय को करें। घर में गेहूं का आटा केवल, सोमवार या शनिवार को ही पिसवाएं। पिसवाने से पहले उसमें सौ ग्राम काले चने डाल दें। इस प्रकार का आटा खाने से धीरे-धीरे लड़ाई-झगडा तथा घर से क्लेश खत्म हो जाएगा।

ग्रह शांति तथा कष्टो को दूर करने के लिए :

एक पतंग ले कर उस पर अपने कष्ट तथा परेशानियां लिखें। उसको हवा में उड़ा कर छोड दें। ऐसा सात दिन तक लगातार करें। सब कष्ट तथा परेशानियां दूर हो जाएंगी तथा घर में सुख-शांति होगी।

लड़ाई-झगड़ा दूर करने के लिए :

रात को सोते समय पति अपने सिरहाने सिंदूर रखे तथा पत्नी कपूर रखे। सुबह उठ कर पत्नी कपूर को जला दे तथा पति सिंदूर को घर में कहीं भी गिरा दै तो घर में लड़ाई-झगड़ा खत्म हो जाएगा तथा सुख-शांति रहेगी।

सुख-शांति के लिए :

सात अशोक वृक्ष के पत्ते ले कर, उन्हें मंदिर में रख कर, पूजा करें। जब मुरझाने लगें तो नये पत्ते रख दें। पुराने पत्तों को पीपल के नीचे रख आएं, तो घर में सदा सुख-शांति रहेगी।

बिक्री की वृद्धि हेतु :

हमारा व्यापारी वर्ग आम तौर पर बिक्री घटने, या बिक्री पर रोक लगने से अधिक चिंतित रहता है, तो इसके लिए इस उपाय को करें। रविवार को गंगा जल ले कर, उस पर फूंक मार कर, 21 बार गायत्री मंत्र का पाठ करें। फिर इस जल को व्यापार स्थल पर और सभी दीवारों पर भी छिड़क दें। ऐसे लगातार सात रविवार करें। व्यापार में वृद्धि होगी। सोमवार को सफेद चंदन ले कर आएं। उसे एक सप्ताह तक घर के मंदिर में रखें, धूप बत्ती दिखाएं तथा एक सप्ताह के बाद उसको घर में पैसों के साथ रखें, तो बिक्री में वृद्धि और घर में खुशहाली होगी। अगर हो सके, तो सोमवार को इससे अपने माथे पर तिलक भी किया करें।



अंक विशेषांक  जुलाई 2010

अंक शास्त्र की विस्तृत जानकारी के लिए पढ़े अंक विशेषांक की आवरण कथा के रोचक लेख। इसके विचार गोष्ठी कॉलम में पढ़ें- ''कैरियर का चुनाव'' नामक ज्योतिषज्ञानवर्द्धक लेख। 'फलित विचार' स्तंभ के अंतर्गत आचार्य किशोर का ''सूर्य का नीच भंग राजयोग'' नामक लेख विशेष ज्ञानवर्द्धक है। पावन स्थल में मां तारा के प्राचीन सिद्ध पीठ का वर्णन है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.