गुरु के उच्च राशिस्थ होने पर प्रोपर्टी सस्ती हो जाती है

गुरु के उच्च राशिस्थ होने पर प्रोपर्टी सस्ती हो जाती है  

गुरु जब भी कर्क राशि में प्रवेश करते हैं तो प्रोपर्टी के दाम गिर जाते हैं। जून 2014 में गुरु अपनी उच्च राशि कर्क में प्रवेश करेंगे और प्रोपर्टी सस्ती हो जाएगी। यदि गत समय को देखें तो आप पाएंगे कि सन 2002-3 में जब गुरु उच्च राशि के थे तो भी भारत और दुनिया के कई देशों में प्रोपर्टी के दाम आश्चर्यजनक रूप से गिरे थे। ठीक ऐसा ही 1991 में भी हुआ। यही गुरु जब मकर राशि में प्रवेश करते हैं तो प्रोपर्टी महंगी हो जाती है। सन् 2009 मे गुरु के नीच राशिस्थ यानि मकर राशि में होने के समय प्रोपर्टी के मूल्य में आश्चर्यजनक बढ़ोत्तरी हुई थी। सन् 1997 के संपत्ति मूल्य डाटा का विश्लेषण भी यही दिखाता है। कालपुरूष की कुंडली में कर्क राशि प्रोपर्टी के घर की राशि मानी जाती है। इसलिए जब गुरु इस राशि में आते हैं तो अपने सर्वजनहितैषी व परोपकारी स्वभाव के कारण ऐसा प्रभाव डालते हैं।


अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.