कुछ उपयोगी टोटके

कुछ उपयोगी टोटके  

कुछ उपयोगी टोटके डाॅ. उर्वशी बंधु उल्टी रोकने के लिए कई बच्चे दूध पीने के पश्चात् एकदम उल्टी कर देते हैं। यदि आपका आपका बच्चा भी ऐसा करता हो, तो उसी समय उसके पास कांसे की थाली या कटोरी को चम्मच से बजा दें। मन में ‘ऊँ नमः शिवाय’ का जप करते रहें, उल्टी तुरंत रुक जाएगी। मनोकामना पूर्ति हेतु मनोकामना की पूर्ति हेतु मंदिर की सेवा करें, दो सप्ताह में वांछित फल होगा। प्रत्येक शनिवार को प्रातः के समय बेलपत्र पर सफेद चंदन की बिंदी लगाकर अपनी मनोकामना बोलकर शिवलिंग पर अर्पित करें, आपकी मनोकामना शीघ्र पूर्ण होगी। यह उपाय शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार से शुरू करें। मनोकामना की पूर्ति के पश्चात् ईश्वर का धन्यवाद करें तथा मंदिर में प्रसाद चढ़ाएं। व्यापार में वृद्धि हेतु धनदा यंत्र को कमलगट्टे की माला पर शुभ मुहूर्Ÿा में स्थापित करें, व्यापार-व्यवसाय में तरक्की होने लगेगी। मनोकामना की पूर्ति हेतु श्री व्यंकटेश यंत्र को शुक्ल पक्ष के प्रथम गुरुवार को स्थापित करें, फिर प्रतिदिन दर्शन करें और तुलसी दल चढ़ाएं। नियमित रूप से दूध-भात का भोग लगाएं और तुलसी की माला से ‘ऊँ नमो नारायणाय’ मंत्र का एक माला जाप करें। उपाय श्रद्धापूर्वक करें, अभिलाषा पूरी होगी। शीघ्र विवाह हेतु मनोकामना की पूर्ति या शीघ्र विवाह हेतु एक गौरीशंकर रुद्राक्ष सोमवार को नजर दोष से मुक्ति के लिए या किसी विशेष सिद्ध मुहूर्Ÿा में भगवान शिव पार्वती को चढ़ाएं और मनोकामना व्यक्त करें, सिद्ध होगी। संतान प्राप्ति हेतु संतान सुख के लिए, शुभ मुहूर्Ÿा में पुराना गुड़ भूमि में दबाएं। ऐसा वृद्ध दंपति भी कर सकते हैं, इससे बुढ़ापे में संतान सुख प्राप्त होता है और बच्चे सेवा करते हैं। संतान का कष्ट भी इस टोटके से दूर हो जाता है और घर में सुख समृद्धि बनी रहती है। यह बहुत ही कारगर उपाय है, जिसे सुख के लिए हर गृहस्थ को करना चाहिए। ध्यान रहे, गुड़ की मात्रा कम से कम एक किलो हो। इंटरव्यू में सफलता के लिए इंटरव्यू आदि में सफलता के लिए पांच अभिमंत्रित कौड़ियां लें और उन पर हल्दी का तिलक लगाकर उन्हें अपने ऊपर से नौ बार उतारें, इस दौरान मन में ‘ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय’ का जप करते रहें। हरिजन को उचित दक्षिणा दें और कौड़ियां पीपल के वृक्ष के नीचे या मंदिर में रख आएं, इंटरव्यू में सफलता अवश्य मिलेगी। नजर दूर करने के लिए घर के निकट किसी भी वृक्ष की जड़ में शाम को थोड़ा सा कच्चा दूध डाल दें व गुलाब की तीन अगरबŸाी जलाएं। अगर परिवार में किसी को नजर लगी होगी तो उतर जाएगी। धन-समृद्धि की वृद्धि हेतु तिजोरी में बिल्ली की नाल को सिंदूर व लौंग के साथ शुभ मुहूर्Ÿा में रखने से धन समृद्धि मिलती है। शत्रु से बचाव के लिए महीने में एक बार 800 ग्राम बादाम जल में प्रवाहित करें। कच्चे दूध में जल मिलाकर प्रतिदिन शिवलिंग पर श्रद्धा से चढ़ाएं। पंद्रह दिन में एक बार मूली जमादार को दें। ध्यान रहे मूली देने से पहले पŸो निकाल दें। ऐसा करने से शत्रुओं से रक्षा होती है।



अंक शास्त्र विशेषांक   सितम्बर 2008

अंक शास्त्र में प्रचलित विभिन्न पद्वतियों का विस्तृत विवरण, अंक शास्त्र में मूलांक, नामांक व भाग्यांक का महत्व, अंक शास्त्र में मूलांक, भाग्यांक व नामांक के आधार पर भविष्य कथन की विधि, अंक शास्त्र के आधार पर पीड़ा निवारक उपाय, नामांक परिवर्तन की विधि एवं प्रभाव

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.