brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer
शंख एक उपाय अनेक

शंख एक उपाय अनेक  

शंख एक उपाय अनेक चेहरे की कांति में वृद्धि हेतु- मोती शंख को रात्रि में पानी से भरे किसी कांच के बर्तन में रखें। प्रातः उस पानी को पी लें। यह क्रिया रोज करें, चेहरे पर चमक व कांति आएगी और आंतों के रोग दूर होंगे। इसके अतिरिक्त इस शंख को रोज चेहरे पर हल्के-हल्के फेरें, चेहरा मोती की तरह चमकने लगेगा। यह क्रिया करने से लड़कियों के चेहरों पर पड़ने वाले दाग व मुंहासे शीघ्र दूर होने लगते हैं। मानसिक रोगों से मुक्ति हेतु- मोती शंख में चावल भरकर मानसिक रोग से ग्रस्त व्यक्ति के सिर के ऊपर से सात बार उतार कर जल में प्रवाहित कर देने से उसे रोग से मुक्ति मिल सकती है। पति-पत्नी के बीच प्रेम की प्रगाढ़ता के लिए- कांच के एक कटोरे में लघु मोती शंख रख कर उसे अपने बिस्तर के नजदीक रखें। इससे कमरे के आस-पास की नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और पति-पत्नी में प्रेम बढ़ेगा। लक्ष्मी की कृपा के लिए- दक्षिणावर्ती शंख लक्ष्मी का साक्षात रूप है। इस शंख को घर में स्थापित करें, लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहेंगी। ऋण से मुक्ति के लिए- यदि आप ऋण् के बोझ तले दबे हुए हैं, लाख कोशिशों के बावजूद मुक्ति नहीं मिल पा रही, तो घर, दुकान या कार्यालय में दक्षिणावर्ती शंख स्थापित करें, आश्चर्यजनक परिणाम सामने आएंगे। भूत-प्रेत बाधा से मुक्ति हेतु- दक्षिणावर्ती शंख में थोड़ा गंगा जल डालकर सारे घर में छिड़कें, भूत-प्रेत बाधाओं से मुक्ति मिलेगी।


शंख विशेषांक  आगस्त 2009

ज्योतिष में शंख का क्या महत्व है, विभिन्न शंखों की उपयोगिता, शंख कहां-कहां पाए जाते है, शंख कितने प्रकार के होते है तथा घर में या पूजास्थल पर कौन सा शंख रखा जाना चाहिए और क्यों? यह विशेषांक शंखों से आपका पूर्ण परिचय कराने में मदद करेगा.

सब्सक्राइब

.