सन् 2011 में भारत का भविष्य

सन् 2011 में भारत का भविष्य  

वर्ष 2011 भारत के लिए शुभ दायक होगा। तृतीय भाव के स्वामी सूर्य की महादशा में राहु की अंतर्दशा भारत की प्रतिष्ठा एवं प्रसिद्धि को अचानक बढ़ाएगी। मार्च 2011 के बाद, देश में सर्वांगीण सुधार होगा और भारत अंतर्राष्ट्रीय राजनीति में एक प्रभावशाली राष्ट्र के रूप में उभरेगा। भारत की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और इसके साथ जून 2011 के बाद भारत के प्रधानमंत्री कोई क्रांतिकारी निर्णय लेंगे जो देश की आर्थिक स्थिति को दृढ़ता प्रदान करेगा। वर्षांत में अन्य देषों के साथ संधि होंगी जिनसे विकास दर में बढ़ोŸारी होगी। मार्च-अप्रैल में मंगल एवं शनि का आपसी दृष्टि-संबंध राष्ट्रों के मध्य अचानक शत्रुता एवं आतंकवाद का संकेत देता है जो कानून व्यवस्था एवं शांति को नुकसान पहुंचाएगा। इस समस्या का सामना अन्य देश भी करेंगे। अप्रैल के उŸारार्द्ध में पांच ग्रहों की मीन राषि में युति भूकंप की संभावना को प्रबल करती है। इसके कारण अप्रैल-मई 2011 में भूकंप आने की संभावना रहेगी जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6-7 या अधिक होगी। यह वर्ष फसल एवं अनाजों के लिए शुभफलकारी रहेगा। फलों एवं फूलों का उत्पादन भी अच्छा रहेगा। संक्षेप में यह वर्ष कृषि के लिए प्रगतिकारक होगा। वर्षा: 2011 में वर्षा सामान्य रहेगी। लेकिन वर्षा का स्वरूप 2010 से अलग ही रहेगा। जनवरी में गणतंत्र दिवस के एक हफ्ते बाद अच्छी वर्षा या हिमपात होगा। अप्रैल माह में 16 अप्रैल के बाद कुछ बूंदा बांदी होगी पर मई माह में 28 से 30 मई के बीच कोई वर्षा नहीं होगी। मानसून 9-10 जुलाई को आएगा और अधिकतम वर्षा, जुलाई के उत्तरार्द्ध में रहेगी। जुलाई के दूसरे पक्ष में अधिक वर्षा होने के कारण बाढ़ का प्रकोप भी रहेगा। अगस्त माह में लगभग सूखा रहेगा व सितंबर माह के पूर्वार्द्ध में पुनः वर्षा होगी। सोना: सोने की कीमतें वर्ष के शुरू मेें मंदे की ओर जाएंगी। 1 फरवरी 2011 में यह पुनः नयी उछाल लेगी। इसके पश्चात् सोने की कीमत पुनः गिरेगी, अप्रैल में पुनर्जीवित होगी। मई के प्रारंभ में यह अधिकतर नीचे ही रहेगी और उसके बाद से लगातार नीचे ही रहेगी, इसके बाद अक्तूबर माह के अलावा यह उछाल दिखाएगी, जो वर्ष के उत्तरार्द्ध में पुनः नीचे जाएगी। सेनसैक्स: वर्ष का प्रारंभ सेनसैक्स में गिरावट के साथ होगा परंतु जनवरी माह के अंत तक यह पूर्ण उछाल प्राप्त करेगा। वर्ष पर्यंत इसमें अस्थिरता रहेगी, जिसमें अप्रैल, जून एवं अगस्त मास में उछाल आएगा एवं मई, जुलाई, सिंतबर व वर्षांत में गिरावट रहेगी। क्या मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री का कार्यकाल पूरा कर पाएंगे? गुरु एवं शनि का गोचर संकेत करता है कि आने वाले वर्षों में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी के स्वास्थ्य में सुधार होगा और इसके भी शक्तिशाली संकेत हैं कि वह प्रधानमंत्री पद का पांच वर्ष का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूरा कर लेंगे। राहु की महादशा उनको षडयंत्रों से बचाएगी। क्या राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे? राहुल गांधी भारतीय राजनीति में एक सक्रिय शक्ति के रूप में उभरेंगे। गुरु की महादशा में वहे जनता के कल्याण के कार्यों से अपने आपको जोडं़ेगे। अगले चुनावों में उनके प्रधानमंत्री बनने की निष्चितता न भी हो परंतु 2011 के बाद राजनीति में उनकी सक्रियता निश्चित रूप से बढ़ेगी। नितीश कुमार का भविष्य? मंगल की महादशा नितीश कुमार के लिए अप्रत्याशित सफलता लेकर आई। जिसने उनके राजनैतिक कैरियर को शक्ति प्रदान की। उनका मुख्यमंत्री के रूप में भविष्य उज्जवल है क्योंकि आगामी राहु की महादशा उनको और अधिक प्रभावशाली बनाएगी। भारतीय राजनीति में वह एक बड़ी शक्ति के रूप में उभरेंगे लेकिन अष्टम शनि उनको प्रधानमंत्री पद से दूर ही रखेंगे। वह प्रधानमंत्री नहीं बन पाएंगे। वर्ष 2016 के पश्चात् गुरु का अनुकूल गोचर नितीश को जनसमुदाय का प्रिय नेता बनाएगा। भाग्य स्थान स्थित राहु की महादशा उनकी राजनैतिक छवि को सुधारेगी और यह समय उनके लिए राष्ट्रीय राजनीति में स्वर्णिम सिद्ध होगा। क्या ओबामा व्हाइट हाउस में अपना कार्यकाल पूरा कर पाएंगे? ओबामा अपना चार वर्ष का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूरा कर लेंगे क्योंकि गुरु एवं शनि का गोचर आने वाले समय में उनके लिए अनुकूल रहेगा। नवंबर 2011 के पश्चात् वह विश्व नेता के रूप में विशेष नाम व प्रसिद्धि कमाएंगे। 2012 के अंत तक ग्रह उनके अनुकूल हैं और वह निश्चित रूप से आगामी राष्ट्रपति चुनावों में कठिन टक्कर देंगे। ब्रिटेन के राजकुमार प्रिंस विलियम की शादी कैसी रहेगी? पिं्रस विलियम और उनकी प्रेमिका कैट मिडलटन की शादी लंदन के विंडसर पैलेस में 29 अप्रैल 2011 को होनी तय हुई है। उस दिन की ग्रह स्थिति के अनुसार उस दिन राशि मीन व नक्षत्र उत्तराफाल्गुनी है। भारतीय मुहूर्त ज्योतिष के अनुसार, शादी की तारीख पूर्ण रुपेन सही है। राजकुमार विलियम एवं उनकी प्रेमिका की एक ही राशि है अतः उनका विवाह सफल रहेगा। इस जोड़ी को 36 गुणों में से 24 गुण मिले हैं। कुंडली मिलान द्वारा कैट मिडलटन राजकुमार की अपेक्षा बहुत ही विनम्र व्यक्तित्व की मलिका हैं। वह उनकी मांगों को सहर्ष स्वीकार करेंगी और उनकी जरूरतों के प्रति भी समझौता करेंगी। वे बहुत अच्छी मित्र साबित होंगी। उनमें झगड़े नहीं होंगे और कैट जनता के सामने बहुत संयमित व्यवहार रखेंगी। विलियम अपने जीवन के सबसे श्रेष्ठ दौर से गुजर रहे हैं। यह अनुकूल समय 15 से 20 वर्षों तक रहेगा। पर वह लंबे समय तक राजकुमार के रूप में ही कार्य करते रहेंगे, राजा के रूप में नहीं, कम से कम 15 वर्षों तक तो नहीं। मिलान में नाड़ी दोष के कारण ब्रिटिश शाही परिवार को भावी वंशज के लिए कुछ सालों तक इंतजार करना होगा।


अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.