जगदम्बा प्रसाद गौड


(19 लेख)
ज्योतिष की नज़र में मानसून विचार

जुलाई 2005

व्यूस: 15943

ज्योतिष शास्त्र को तीन प्रमुख भागों में बांटा गया है: 1. गणित (सिद्धांत) 2. जातक (होरा) 3. संहिता । त्रिस्कंध ज्योतिष शास्त्र चतुर्लक्षमृदाहवम। गण जातकं विप्र संहिता स्कन्धा संक्षितम।। गणित में लग्नादि, वर्गादि, भाव स्पष्ट... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीक

ज्योतिष की नजर में वर्षा

अप्रैल 2009

व्यूस: 5307

जिस प्रकार लोकतांत्रिक राज्यों को चलाने के लिए मंत्री परिषद बनाए जाते हैं। उसी प्रकार विश्व चक्र को चलाने के लिए प्रतिवर्ष ग्रहों की आकाशीय कौंसिल बनाई जाती है। जिसमें हर विभाग का मंत्री एक ग्रह को नियुक्त किया जाता है। इस लिए वर्... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीक

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

जून 2013

व्यूस: 3421

मासारंभ में सूर्य, मंगल का शनि, राहु से षडाष्टक योग में होना तथा 6 जून को देवगुरु बृहस्पति का अस्त हो जाना और कालसर्प योग का बनना देश में राजनीतिज्ञों में परस्पर विरोधाभास की स्थिति को और अधिक बनाएगा तथा परस्पर नए मुद्दों को लेकर ... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीकगोचर

फलित में अष्टक वर्ग की विशेषता

जनवरी 2004

व्यूस: 3360

फलित ज्योतिष में फलादेश निकालने की अनेक विधियां प्रचलित हैं, जिनमें से पराशरोक्त सिद्धांत, महादशाएं, अंतर दशाएं, प्रत्यंतर दशाएं, सूक्ष्म दशायें इत्यादि के साथ, जन्म लग्न, चंद्र लग्न, नवांश लग्न के द्वारा, वर्ष, मास, दिन एवं घंटों... और पढ़ें

ज्योतिषअष्टकवर्गकुंडली व्याख्याघरग्रहभविष्यवाणी तकनीक

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

जनवरी 2007

व्यूस: 3255

गोचर ग्रह परिवर्तन : इस मास ग्रहों का राशि परिवर्तन इस प्रकार होगा। सूर्य १४ जनवरी को शाम के ६ बजकर ६ मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करेगा। मंगल ८ जनवरी की रात को ८ बजाकर १० मिनट पर धनु राशि में प्रवेश करेगा।... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिष

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

फ़रवरी 2007

व्यूस: 2090

गोचर ग्रह परिवर्तन : इस मास ग्रहों का राशि परिवर्तन इस प्रकार होगा। सूर्य १३ फरवरी को प्रात: ७ बजकर ५ मिनट पर कुंभ राशि में प्रवेश करेगा। मंगल १८ फरवरी को प्रात: ७ बजे मकर राशि में प्रवेश करेगा । बुध १४ फरवरी को प्रात: १० बजकर ६ म... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीक

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

मई 2013

व्यूस: 1212

गोचर फल विचार मासारंभ में शनि राहु का सूर्य व मंगल के साथ समसप्तक योग बनना पश्चिमी देशों में राजनैतिक परिवर्तन होने का याग बना रहा है। इसके साथ ही सूर्य, मंगल, बुध, केतु, शुक्र का पंचग्रही योग बनाते हुए बृहस्पति से द्... और पढ़ें

ज्योतिषमेदनीय ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीक

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

फ़रवरी 2006

व्यूस: 700

गोचर की स्थिति: मासारंभ में सूर्य मकर में, चंद्रमा कुंभ में, मंगल मेष में, बुध मकर में, गुरु तुला में, शुक्र धनु में, शनि कर्क में, राहु मीन में, केतु कन्या में, नेप्च्यून मकर में, प्लूटो धनु में और यूरेनस कंुभ राशि में ह... और पढ़ें

ज्योतिषदशामेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीकगोचर

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

दिसम्बर 2006

व्यूस: 647

गोचर ग्रह स्थिति: मासारंभ में सूर्य वृश्चिक में, चंद्र मीन में, मंगल वृश्चिक में, बुध तुला में, गुरु वृश्चिक में, शुक्र वृश्चिक में, शनि सिंह में, राहु कुंभ में, केतु सिंह में, नेप्च्यून मकर में और यूरेनस कुंभ राशि में होंग... और पढ़ें

ज्योतिषदशामेदनीय ज्योतिषगोचर

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

मार्च 2006

व्यूस: 620

गोचर की स्थिति: मासारंभ में सूर्य कुंभ राशि में, चंद्रमा मीन राशि में, मंगल वृष राशि में, बुध मीन राशि में, गुरु तुला राशि में, शुक्र मकर राशि में, शनि कर्क राशि में, राहु मीन राशि में, केतु कन्या राशि में, प्लूटो धनु राश... और पढ़ें

ज्योतिषदशामेदनीय ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीकगोचर

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)