कैदी नंबर 106 सलमान खान

कैदी नंबर 106 सलमान खान  

आभा बंसल
व्यूस : 429 | फ़रवरी 2020

करीब पांच शताब्दियों तक मारवाड़ की राजधानी रहा जोधपुर जिसे सूर्य नगरी के नाम से भी जाना जाता है आज तक अपने ऐतिहासिक महत्व और अपनी रजवाड़ी आन-बान-शान के लिए खबरों की सुर्खियां बटोरता रहा है। आज स्थिति इसके विपरीत है, आज यह बॉलीवुड के दबंग खान ‘सलमान खान’ पर काले हिरण के शिकार के मामले के तहत चल रहे मुकद्दमे में फैसले को लेकर चर्चा का कारण बना हुआ है। मामला करीब 20 साल पुराना है। सलमान पर अब तक तीन बड़े कानूनी मामले विशेष रुप से चर्चित रहे जिसमें आम्र्स एक्ट का मामला, नशे में लोगों पर गाड़ी चढ़ाने का मामला और काले हिरण के शिकार का मामला है। आगे बढ़ने से पहले आईये एक नजर सलमान खान द्वारा अर्जित आज तक की शोहरत और कामयाबी पर डालते हैं-

अब्दुल रशीद सलीम सलमान खान जिन्हें आज हम सलमान खान के नाम से जानते हैं, बॉलीवुड जगत के मशहूर अभिनेता होने के साथ-साथ निर्माता, टी.वी. होस्ट और समाजसेवी हैं। 27 दिसम्बर 1965 के दिन दोपहर के समय, इंदौर में सलीम खान के यहां जब नवजात बालक की किलकारियां गूंजीं तो परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई। सलीम खान अपने समय के जानेमाने लेखक रहे हैं, बॉलीवुड के शीर्ष लेखकों की श्रेणी में इनका नाम गिना जाता है। महाराष्ट्रियन परिवार से आई माता और जम्मू-कश्मीर के धरातल से आए पिता दोनों के संस्कार, लाड़-प्यार और दो अलग-अलग कल्चर का मिला-जुला पालन-पोषण सलमान को मिला। एक भरे पूरे परिवार में सलमान का जन्म हुआ, जिसमें दो भाई, दो बहन, एक सौतेली मां हैं। परिवार में बड़े होने के बावजूद सलमान अपने घर-परिवार की आंखों के तारे रहे।

कहते हैं सलमान के स्टाइल का जादू इनके फैन्स के सिर चढ़कर बोलता है। एक के बाद एक हिट फिल्में देने वाले सलमान के हर स्टाइल की काॅपी उनके फैन्स करते रहे हैं। फिर वह चाहे दबंग का चुलबुल पांडे हो, या फिर तेरे नाम का राधे। छोटे से लेकर हर बड़े बैनर के नीचे सलमान ने काम किया है। जहां एक ओर कामयाबी ने उनके हमेशा कदम चूमे हैं वहीं विवाद और सलमान एक सिक्के के दो पहलू रहे हैं। आए दिन इनका नाम किसी न किसी विवाद के साथ जुड़ता ही रहा है। यहां तक कि तीन मामलों में वे कानूनी तौर पर भी फंस चुके हैं, उनके बारे में कहा जाता है कि सलमान कब अपना टेंपर लूज कर दें कुछ कहा नहीं जा सकता । हालांकि अन्य दोनों खानों को आज बॉलीवुड जगत का डूबता हुआ सूरज कहा जा सकता है। पिछले कुछ समय से शाहरुख खान और आमिर खान दोनों की कोई बड़ी हिट फिल्म नहीं आई है जबकि सलमान का जलवा आज भी बरकरार है। सलमान एक्टिंग के साथ-साथ चैरिटी दोनों को समय देते हैं। टीवी की दुनिया में भी उन्होंने खूब नाम कमाया है, बिग बॉस और दस का दम जैसे कार्यक्रमों को सलमान ने संचालित किया है।


जीवन की सभी समस्याओं से मुक्ति प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें !


एक तरफ जहां सलमान की फिल्में आज भी रिकार्ड तोड़ कमाई कर रही हैं वहीं सलमान प्यार के मामलों में ज्यादा सफल नहीं रहे। समय-समय पर किसी न किसी को-स्टार्स के साथ उनका नाम खबरों की हेडलाइन्स बनता ही रहा है। सलमान में कुछ खास बातें हैं जिनके चलते आज भी वे पॉपुलर और सफल हैं। खबरों के अनुसार सलमान को ट्राईजेमिनल न्यूराॅलाजिया नामक रोग है, जिसके कारण बोलने तक में इन्हें दर्द होता है। सलमान दुनिया के सातवें सबसे हैंडसम आदमी का स्थान प्राप्त कर चुके हैं। बॉलीवुड हीरोज में इंटरनेट पर सर्च किए जाने वाले सबसे चर्चित सेलिब्रिटी हैं। लंदन के तुसाद संग्रहालय में उनकी वैक्स की मूर्ति है। कमाई के मामले में कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं तो विवादों में भी सलमान का कोई सानी नहीं है।

सलमान से जुड़े कुछ विवाद इस प्रकार हैं-

एक समय में सलमान 400 कैदियों के जुर्माने की रकम भरने के लिए आगे आए थे, सलमान उस समय नहीं जानते थे कि आज जिन कैदियों की ये मदद कर रहे हैं एक दिन उन्हें भी कैदी नम्बर 106 की पहचान मिलेगी। 5 अप्रैल 2018 के दिन जब सूरज उगा तो अपने साथ उजाला और प्रकाश लेकर तो अवश्य आया, किंतु साथ ही लेकर आया सलमान खान के लिए चिंता और तनाव के बादल। इस दिन सारे मीडिया की नजरें जोधपुर की अदालत के उस कमरे पर टिकी थीं, जहां सलमान खान पर पिछले 20 साल से विचाराधीन काले हिरण के शिकार के मामले का फैसला आना था। इस मामले में न केवल उनपर हिरण का शिकार करने का मामला चल रहा है अपितु अवैध रुप से हथियार रखने और इस्तेमाल करने के आरोप लगे हुए हैं। सलमान पर यह मामला कोई नया नहीं था, लास्ट 20 ईयर्स से इस तनाव को सलमान झेल रहे हैं। 5 अप्रैल को सभी प्रमुख अखबारों, चैनलों के पत्रकार, फोटोग्राफर्स यह जानने के लिए बेताब थे कि सलमान को इस मामले में जेल मिलेगी या रिहाई। सलमान मामले के मुख्य आरोपी थे, बाकि सोनाली बेंद्रे, तब्बू, सैफ अली खान और नीलम भी सहयोगी आरोपी थे।

मामले की तह में जाएं तो यह मामला 28 सितम्बर 1998 में सूरज बड़जात्या की फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ के निर्माण के दौरान का है। कथित रुप से इस दिन सलमान और सहयोगी आरोपियों ने चिंकारा हिरण का शिकार किया। चिंकारा राजस्थान का राज्य पशु घोषित है जबकि काला हिरण दुर्लभ वन्य प्राणियों की सूची में आता है। इन दोनों पशुओं को मारने के जुर्म के अंतर्गत आने पर प्रावधान के अनुसार 6 साल तक की सजा हो सकती हैं। इसी आरोप में यह मामला चल रहा था, जिसका फैसला 5 अप्रैल 2018 को आया। इस मामले में कोर्ट ने सलमान को 5 साल की सजा का एलान किया। गौरतलब है कि सलमान इससे पहले भी इस मामले में अब तक 18 दिनों तक जोधपुर जेल में रह चुके हैं। सबसे पहले 1998 में, फिर 2006 में और फिर 2007 में उन्हें जेल में रहना पड़ा।

उनपर चल रहे एक अन्य 2002 वर्ष के हिट एंड रन केस में उन्हें आरोपों से बरी कर दिया गया था, पर यह मामला भी काफी लम्बे समय तक चला और अंततः इन्हें इस मामले से राहत मिली थी, इस मामले में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई थी और पांच लोग इनकी गाड़ी की चपेट में आकर गंभीर रुप से घायल हो गए थे। इस मामले में मिली राहत के खिलाफ अभी आरोपी सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाने का कह रहे हैं। 2002 से सलमान को कोर्ट-कचहरी के मामलों ने ऐसा परेशान किया है कि इनके दिन का चैन और रातों की नींद गायब हो गई है। 1998 से ग्रहों ने किस प्रकार की करवट ली कि उनकी परेशानियां खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं, आईये इसका विश्लेषण इनकी जन्मकुंडली से करते हैं-


Get the Most Detailed Kundli Report Ever with Brihat Horoscope Predictions


कुंडली विश्लेषण

मेष लग्न, कुम्भ राशि में सलमान का जन्म हुआ। लग्नेश मंगल उच्चस्थ, आयेश शनि आय भाव में अपनी मूलत्रिकोण राशि में स्थित है। मंगल की इस स्थिति ने इन्हें दबंग और आवेशयुक्त बनाया, यही वजह है कि ये कभी भी आपा खो देते हैं। शनि इनके लिए आय, लाभ, कामयाबी, सफलता और उन्नति के ग्रह तो हैं परन्तु शनि इनके लिए अशुभ भाव एकादश के स्वामी होकर, अशुभ भाव में स्थित हैं, बाधकेश भी हैं और शुक्र इनके लिए प्रबल मारकेश हैं। मारकेश शुक्र का लग्नेश के साथ करियर भाव में एक साथ होना, वह भी 10 अंशों से कम अंतर से इनके लिए ग्लैमर जगत में फेमस और मनोरंजन नगरी में सफलता का कारक बना। इनकी कुंडली में सबसे अच्छी बात है कि भाग्य भाव से भाग्येश गुरु का सीधा संबध बन रहा है, पंचमेश सूर्य अपने से पंचम में स्थित हैं, धन और सफलता के पक्ष से यह अति शुभ योग है। परन्तु शनि और मंगल दो अशुभ ग्रहों का पंचम भाव से दृष्टि संबंध बनाना इन्हें बार-बार प्रेम संबंधों में असफलता देता है। राहु का वाणी भाव में होना इन्हें बयानबाजी के कारण विवादों में लाता रहा है। धन योगों और राजयोगों से भरी इनकी कुंडली इन्हें सफलता तो दे रही है साथ ही विवाद भी इनके तनाव का कारण बन रहे हैं। यह तो बात हुई इनकी कुंडली में बन रहे योगों की, आईये अब बात करें 1998 से शुरु हुए कानूनी मामलों की-

1998 सितम्बर, जिस समय इनपर काले हिरण के शिकार का मामला है, उस समय इन पर गुरु-चंद्र-शनि की दशा प्रभावी थी। महादशानाथ गुरु भाग्येश और व्ययेश हैं, तीसरे भाव में वक्री अवस्था में भी हैं। महादशानाथ गुरु और अंतर्दशानाथ चंद्र दोनों 1 अंश के साथ स्थित हैं और गुरु की चंद्र पर दृष्टि भी है। प्रत्यंतर्दशानाथ शनि व चंद्र एक साथ हैं। इस तरह इनकी मानसिक शांति भंग हुई। घटना के समय गुरु गोचर में वक्री अवस्था में थे, राहु-केतु अक्ष में, छठा भाव पीड़ित था। लग्न भाव पर शनि का गोचर लग्न को पीड़ित कर रहा था। मंगल-राहु एक साथ थे, लग्न, लग्नेश दोनों कमजोर थे। इसी मामले का फैसला 5 अप्रैल 2018 को आया।

28 सितम्बर 2002 में जब हिट एंड रन केस में इन्हें कोर्ट कचहरी का सामना करना पड़ा, ठीक इसी के आस-पास इनकी शनि की महादशा शुरु हुई। शनि आयेश होने के कारण इनके लिए लाभकारी ग्रह तो साबित हुए परन्तु शनि का बाधकेश होना, चंद्र के साथ युति में होना और दशम दृष्टि से षष्ठेश बुध से संबंध होना, इनके लिए बैठे बिठाए परेशानियों का कारण बना। बुध इनके लिए कोर्ट-केस, कचहरी भाव से जुड़े ग्रह हैं, कष्ट और तनाव, बाधाओं के लिए प्रसिद्ध अष्टम भाव में केतु के साथ हैं। छठे भावेश का अष्टम भाव में होना, विपरीत राज योग तो बना रहा है साथ ही षष्ठेश का राहु/केतु अक्ष में आना आए दिन कानूनी पचड़ों में भी इन्हें डाल रहा है।


अपनी कुंडली में सभी दोष की जानकारी पाएं कम्पलीट दोष रिपोर्ट में


वर्तमान में शनि/राहु/शुक्र की दशा चल रही है। जैसा कि ऊपर चर्चा की गई, शनि बाधकेश, राहु मारक भाव में स्थित होने के कारण मारकेश और शुक्र स्वयं मारकेश हैं। 5 व 6 अप्रैल की रात सलमान खान को जोधपुर जेल में गुजारनी पड़ी, इस समय इन्हें जो नम्बर मिला वह 106 था। आने वाले समय में जमानत मिलने में परेशानी जरूर हुई, फिर भी 7 तारीख को दोपहर बाद इन्हें जमानत मिल ही गई। परन्तु मामला अभी खत्म नहीं हुआ है। शनि महादशा 2021 तक रहेगी, तब तक कानूनी मामले इनकी परेशानियां बढ़ाते रहेंगे। इस समय गोचर में शनि वक्री अवस्था में है। गुरु भी वक्री है और षष्ठेश बुध भी वक्री है। सभी ग्रह सितम्बर 2018 तक मार्गी हो जायेंगे, तब तक स्थिति कुछ नियंत्रण में रहेगी। परन्तु इन्हें अंतिम राहत इस केस से 2019 तक ही मिलने के आसार बन रहे हैं। इसके बाद आने वाली महादशाएं भी कोर्ट-कचहरी से जुड़ी ही आ रही हैं अतः सावधानी रखनी समझदारी होगी।

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

फरवरी 2020 विशेषांक  फ़रवरी 2020

futuresamachar-magazine

फ्यूचर समाचार के इस विशेषांक में - नौकरी, व्यवसाय, पदोन्नति वर्ष 2020, तलाक क्यों? ज्योतिषीय कारण और निवारण, मंगली दोष कितना मंगलकारी, ज्योतिष से जानें-नौकरी या व्यापार, दिल्ली की राजनीति आदि सम्मिलित हैं ।

सब्सक्राइब


.