मकान शुभ अथवा अशुभ?

मकान शुभ अथवा अशुभ?  

फ्यूचर पाॅइन्ट
व्यूस : 13759 | नवेम्बर 2014

मकान की जमीन का जो मालिक है या जिसे मकान की नींव रखनी है या जिसे उस मकान में स्वयं रहना है, उसके हाथों की पैमाईश से (हाथ का माप मध्यमा अंगुली के सिरे से लेकर कुहनी की हड्डी के अंत तक गिना जाएगा) देखा जाएगा। नोट: जातक के हाथ की लम्बाई 16-17” या 18” जितनी भी हो एक हाथ गिना जाएगा। मकान या हर कमरे का क्षेत्रफल देखने का फार्मूला (लम्बा+चैड़ाई) x 3 में से 1 घटा कर 8 से भाग करें। जो शेष बचे वह मकान का शुभाशुभ होगा। उदाहरण-मकान या कमरे की लम्बाई 15 हाथ, चैड़ाई 7 हाथ हो तो,[ (15+7) X 3-1] 66-1 = 65, 65 को 8 से भाग दिया तो शेष 1 रहा। इसी तरह जबाब में शेष 1,2,3,4,5,6,7 और 0 हो सकता है। यदि जवाब में शेष 1-3-5-7 बचे तो कमरे/मकान का शुभ फल होगा।

अगर 2-4-6-0 शेष बचे तो कमरे/मकान का अशुभ फल होगा। इसी तरह मकान या कमरों का शुभाशुभ फल देखा जाएगा।

- शेष 1 बचने वाले मकान में रिहाईश हो, तो इस मकान में रहने वाले लोगों की आयु लम्बी, उच्चपदाधिकारी, राजा या राजा के समान होंगे, गृहस्थ का सुख मिलेगा और हर तरह का उत्तम फल होगा।

- शेष 2 बचने वाले मकान में रिहाईश हो, तो इस मकान में रहने वाला जातक गरीब/धनहीन होगा, संतान के विघ्न, अगर वह सोने का काम करेगा तो हानि और मिट्टी या मिट्टी से संबंधित काम करेगा तो लाभ होगा।

- शेष 3 बचने वाले मकान शेर मुख मकान (मुख्य द्वार चैड़ा और पिछला हिस्सा तंग) में रिहाईश हो, तो यह मकान पुरुषों के लिए तरक्की कारक आग, लड़ाई के सामान आदि के कारोबार के लिए बहुत ही लाभदायक होगा। पुरुषों की हमेशा बरकत होगी, मगर जातक की पत्नी और बच्चों के लिए अशुभ फल देने वाला होगा।

नोट: बच्चों को इस मकान से दूर ही रखें। मकान में जातक के साथ कोई स्त्री या उसकी पत्नी केवल ऐशो-आराम के लिए रह सकती है, मगर जातक की पत्नी का भी इस मकान में रहना कोई शुभ न होगा। कई बार ऐसा मकान जातक को भी नुकसान दे सकता है।

- शेष 4 बचने वाले मकान में रिहाईश हो, तो इस मकान में बेशक चाहे राजा ही क्यों न रहे वह भी एक दिन कंगाल हो जाएगा। जातक को रात-दिन मेहनत के बाद भी रोटी न मिलेगी।

- शेष 5 बचने वाले मकान गौमुख मकान (मुख्य द्वार वाला भाग तंग और पिछला भाग चैड़ा) हो, तो यह मकान धन-परिवार बढ़ाने वाला होता है। इस मकान में जातक की पत्नी और बच्चे आदि सबके सब सुख व आराम पाएंगे।

- शेष 6 बचने वाले मकान तकिया मुसाफिर (धुआं वाली जगह में रहने वाला यात्री) में रिहाईश हो, तो इस मकान में जातक की माता न रहे और पिता सुख न पावे। सन्तान सुख न देवे, भाई-बंधु और मित्र साथ न देंगे। जातक हर समय सफर में रहेगा, वह भी मुसीबत का मारा हुआ होगा।

- शेष 7 बचने वाले मकान में रिहाईश हो, तो जातक हाथी पालने की ताकत वाला होगा, पशुओं का तबेला शुभ होगा और यह मकान परिवार के लिए तरक्कीकारक होता हैा।

- शेष 0 बचने वाले मकान में रिहाईश हो, तो इस मकान पर चील/गिद्ध आकर बैठे तो श्मशान घाट जैसा अशुभ फल देगा, मौतें, सभी बुराइयाँ और तकलीफंे झेलनी पड़ेंगी, दुनिया के साथ सम्बन्ध बिगाड़ते जाएंगे।

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

शनि पर विशेष-दीपावली विशेषांक  नवेम्बर 2014

futuresamachar-magazine

फ्यूचर समाचार के शनि पर विशेष दीपावली विशेषांक में अनेक रोचक व ज्ञानवर्धक लेख जैसे सम्पत्ति प्राप्ति के उपाय, दीपावली पर किये जाने वाले उपयोगी टोटके व उपाय आदि अनेक लेख सम्मिलित किये गये हैं। आवरण कथा में शनि देव पर एक परिचय के अतिरिक्त शनि की ढैया, साढ़ेसाती, दशा, गोचर फल व शनि के बारे में उनकी एक मित्र या शत्रु के रूप में धारणा, शनि की न्याय ज्ञान व वैराग्य के कारक के रूप में मान्यता आदि जैसे अनेक लेख हैं। अन्य लेखों में शनि के रत्न नीलम तथा शनि शमन के अन्य उपाय, व्रत व शनि के विभिन्न धामों के बारे में संक्षिप्त जानकारी दी गई है। सत्य कथा, शनि व करियर, अध्यात्म, भागवत कथा, क्या आप जानते हैं?, टोटके, पंच-पक्षी, शेयर बाजार, ग्रह, स्थिति व व्यापार, विचार गोष्ठी, हैल्थ कैप्सूल,व विभिन्न वास्तु सम्बन्धी लेख पत्रिका की शोभा बढ़ा रहे हैं।

सब्सक्राइब


.