होली के चमत्कारी टोटके

होली के चमत्कारी टोटके  

फ्यूचर पाॅइन्ट
व्यूस : 4149 | मार्च 2017

यदि आप होली के मौके पर व्यवसाय, विवाह, नजर बाधा से मुक्ति, आपसी रिश्तों की अनबन को समाप्त करना चाहते हैं या धन-सम्पदा, जीवन में कारोबार में सफलता, अच्छी नौकरी और संतान प्राप्ति करना चाहते हैं तो आप भी होली त्योहार के सुअवसर का लाभ उठाते हुए अपने जीवन की सभी परेशानियों का निवारण कर सुख-शान्ति से जीवन यापन कर सकते हैं। यहां दिए जा रहे होली के टोटके बेहद आसान और लाभदायक हैं, इन टोटकों को आप इस होली पर जरूर करके देखंे और इसका लाभ उठायें। इन टोटकों के बारे में जानकारी नीचे दी गई है-

धन वृद्धि के टोटके

- होली की रात चंद्रमा के उदय होने के बाद अपने घर की छत पर जहां से चांद नजर आए, वहां खड़े हो जाएं। फिर चंद्रमा का स्मरण करते हुए चांदी की प्लेट में सूखे छुहारे तथा कुछ मखाने रखकर शुद्ध घी के दीपक के साथ धूप एवं अगरबत्ती अर्पित करें। अब दूध से चंद्रमा को अघ्र्य दें। अघ्र्य के बाद सफेद मिठाई तथा केसर मिश्रित साबूदाने की खीर अर्पित करें। चंद्रमा से समृद्धि पूजा करें। डिब्बी के साथ ही होलिका की सात बार परिक्रमा लगायें और फिर इस डिब्बी को घर पर लाकर धन के साथ रख दें। आपके पास पैसे रुकने लगेंगे तथा धन की कभी कमी नहीं होगी।

- होलिका दहन के दूसरे दिन की बची राख को किसी लाल रूमाल में बांध लें और उसे अपनी तिजोरी या पर्स में रख लें। इस टोटके से आपको फायदा मिलेगा। धन का व्यर्थ खर्च बंद हो जायेगा।

- होली के दिन मुख्य द्वार पर गुलाल छिडकें और उस पर द्विमुखी दीपक जलाएं। दीपक जलाते समय धनहानि से बचाव की कामना करें। जब दीपक बुझ जाए तो उसे होली की अग्नि में डाल दें। यह क्रिया श्रद्धापूर्वक करें, धन हानि से बचाव होगा।

- घर के प्रत्येक सदस्य को होलिका दहन में घी में भिगोई हुई दो लौंग, एक बताशा और एक पान का पत्ता अवश्य चढ़ाना चाहिए और होली की ग्यारह परिक्रमा करते हुए होली में सूखे नारियल की आहुति देनी चाहिए। इससे सुख-समृद्धि बढ़ती है, कष्ट दूर होते हैं।

- दिए गए ऋण वापसी के लिए जिस जगह होली का दहन हो रहा हो, वहां पर एक अनार की लकड़ी पर उस आदमी का नाम लिखकर उसके ऊपर हरा गुलाल डालकर होलिका में डाल दें और धन वापस पाने की होलिका माता से प्रार्थना करें। आपका धन अतिशीघ्र वापस मिल जाएगा।

- होलिका दहन की शाम आपको अपने घर के मुख्य द्वार पर गुलाब छिड़ककर आटे का दो मुखी दीपक बनाकर जलाना चाहिए। इस दीपक को जलाने से आर्थिक हानि दूर हो जाती है।

- होली के पहले पड़ने वाले शनिवार को एक पेड़ ढूंढ़ लें जहां चमगादड़ निवास करते हों। उस पेड़ की डाली को सूर्योदय से पूर्व तोड़ लें, रात्रि में पूजन के कुछ समय बाद उस टहनी के पत्तों को तोड़कर अपनी गद्दी या तिजोरी के नीचे रखें। व्यवसाय में खूब वृद्धि होगी और धन प्राप्ति होगी।

- होली की रात पूर्व दिशा की ओर मुंह करके, आसन लगाकर, सात कौड़ियांे व एक छोटे शंख को मसूर की दाल की ढेरी पर स्थापित कर लें। इसके पश्चात मूंगे या फिर तुलसी की माला लेकर दिए गए मंत्र का 1ध्3ध्5 माला जाप करें। मंत्र- ऊँ गं गणपतये नमः। जप संपन्न होने पर समस्त सामग्री को किसी निर्जन स्थान पर गड्ढा खोदकर दबा दें। ऐसा करने से निश्चित ही आपकी दरिद्रता का नाश होगा।

- घर अथवा प्रतिष्ठान की कोई भी एक कील ले जाकर जिस स्थान पर होली जलनी हो, वहां की मिट्टी में दबा दें। अगले दिन उस कील को निकालकर मुख्य-द्वार के बाहर की मिट्टी में दबा दें। इस उपाय से आपके निवास अथवा प्रतिष्ठान में किसी प्रकार की नकारात्मक शक्ति का प्रवेश नहीं होगा, न ही किसी प्रकार का आर्थिक संकट आप पर आएगा।

व्यापार में सफलता के उपाय

- होलिका दहन के दूसरे दिन एकाक्षी नारियल को लाल कपड़े में गेहूं के आसन पर स्थापित करें और सिंदूर का तिलक करें। अब मूंगे की माला से नीचे लिखे मंत्र का जाप करें। 21 माला जाप होने पर इस पोटली को दुकान में ऐसे स्थान पर टांग दें, जहां ग्राहकों की नजर इस पर पड़ती रहे। इससे व्यापार में सफलता मिलने के योग बन सकते हैं। मंत्र- ऊं श्रीं श्रीं श्रीं परम सिद्धि व्यापार वृद्धि नमः।

- व्यापार की परेशानी को दूर करने के लिए आप होलिका दहन के बाद एक जटा वाला नारियल मंदिर या होलिका में चढ़ाएं।

- अपने व्यापार की गिरावट को रोकने के लिए आप होली के दिन पीले कपड़े में काली हल्दी, 11 गोमती चक्र और एक सिक्का चांदी का काले कपड़े में बांधकर, होली की 11 बार परिक्रमा करके 108 बार ‘ऊँ महालक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का जाप करते हुए होली की अग्नि में प्रवाहित कर दें इससे आपके व्यापार में वृद्धि होने लगेगी।

- होली के दिन गुलाल के एक खुले पैकेट में एक मोती शंख और चांदी का एक सिक्का रखकर उसे नए लाल कपड़े में लाल मौली से बांधकर तिजोरी में रखें, व्यवसाय में लाभ होगा।

- होली की रात को ‘ऊँ महालक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का ग्यारह हजार बार जप करने से व्यापार में लाभ होता है।

- व्यापार में परेशानी आ रही है तो होलिका दहन के बाद एक नारियल मंदिर में चढ़ाएं या उस नारियल को होलिका दहन वाले स्थान पर भी चढ़ा सकते हैं। नकारात्मकता के नाश के उपाय - जब होली जल जाए, तब होलिका की थोड़ी-सी अग्नि ले आएं। फिर अपने घर के आग्नेय कोण (पूर्व दक्षिण) में उस अग्नि को तांबे या मिट्टी के पात्र में रखें और निकट सरसों के तेल का दीपक जला दें। इस उपाय से घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा जलकर समाप्त हो जाएगी।

- आप होली के दिन एक काले रंग का कपड़ा लें और उसमें काली हल्दी को बांध दें। इसके बाद इस कपडे़ को अपने सिर के ऊपर से सात बार वार लें और इस कपडे़ को शाम के समय होलिका दहन में डाल दें। घर का परिवेश सकारात्मक हो जाएगा और सभी परेशानियों से मुक्ति मिल जायेगी।

- परिवार का स्वास्थ्य सुख बनाए रखने के लिए आप होलिका दहन के दिन परिवार के सभी सदस्यों के पैर के अंगूठे से लेकर हाथ को सिर से ऊपर पूरा ऊँचा करके कच्चा सूत नाप कर होली में डालें। होली की विभूति यानि भस्म (राख) घर जरुर लायें। पुरुष इस भस्म को मस्तक पर और महिला अपने गले में लगाएं इससे स्वास्थ्य सुख बना रहेगा।

शीघ्र विवाह के उपाय

- होली के दिन सुबह एक साबुत पान पर साबुत सुपारी एवं हल्दी की गांठ शिवलिंग पर चढ़ाएं तथा पीछे पलटे बगैर अपने घर आ जाएं। यही प्रयोग अगले दिन भी करें। जल्दी ही आपके विवाह के योग बन सकते हैं।

वैवाहिक सुख प्राप्ति के उपाय

- घर के बीच में एक चैकोर टुकड़ा साफ कर के उसमें आसन लगा कर कामदेव का पूजन करें। इससे वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।

- होली के दिन 5-5 रत्ती के 5 मोतियों का ब्रेसलेट पहनें। इसके अतिरिक्त हर पूर्णिमा को चांदी के पात्र में कच्चा दूध डालकर चन्द्रमा को अघ्र्य दें, पति-पत्नी के आपसी संबंधों में मधुरता आयेगी।

- जिस दिन होलिका का दहन किया जाता है उस दिन आप होलिका दहन में आटा और जौ चढ़ाएं। इस उपाय से घर के क्लेश मिट जाते हैं।

ग्रहों की शांति के लिए उपाय

- होली की रात उत्तर दिशा में बाजोट (पटिए) पर सफेद कपड़ा बिछाकर उसपर मूंग, चने की दाल, चावल, गेहूं, मसूर, काले उड़द एवं तिल की ढेरी बनाएं। अब उस पर नवग्रह यंत्र स्थापित करें। उस पर केसर का तिलक करें, घी का दीपक लगाएं एवं नीचे लिखे मंत्र का जाप करें। जाप स्फटिक की माला से करें। जाप पूरा होने पर यंत्र को पूजा स्थान पर स्थापित करें, ग्रह अनुकूल होने लगेंगे। ब्रह्मा मुरारी स्त्रीपुरान्तकारी भानु शशि भूमि-सुतो बुधश्च। गुरुश्च शुक्र शनि राहु केतवः सर्वे ग्रहा शांति करा भवंतु।।

अन्य उपाय

- यदि मेहनत के बाद भी बच्चों के कम अंक आ रहें हों तो आप अपने बच्चे के हाथों से पान, नारियल और सुपारी को होलिका दहन वाली जगह पर दान कर दें। इस उपाय से जरूर लाभ मिलेगा।

- वास्तु दोष से मुक्ति पाने के लिए होलिका दहन के अगले दिन सर्वप्रथम उठकर स्नान कर स्वच्छ होकर अपने इष्टदेव को गुलाल अर्पित करें और अपने इष्ट देव का निवास स्थान ईशान कोण में रख कर पूजन करें। यह उपाय करने से ग्रह दोष, वास्तु दोष समाप्त हो जाता है और घर में शांति, सुख-सुविधा धनेश्वरी की वर्षा होती है।

ऐसे बचें टोटकों से

- होलिका दहन वाले दिन सफेद खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिये। उतार और टोटके का प्रयोग सिर पर जल्दी होता है, इसलिए सिर को टोपी आदि से ढंके रहें।

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

होली एवं तंत्र विशेषांक  मार्च 2017

futuresamachar-magazine

फ्यूचर समाचार का मार्च 2017 का विशेषांक होली एवं तन्त्र को पूरी तरह से समर्पित है। इस विशेषांक में बहुत सारे अच्छे लेख होली व तंत्र पर लिखे गये हैं। उनमें से कुछ महत्वपूर्ण लेख इस प्रकार हैं- होली के मुहूत्र्त का चयन कैसे करें, होली की रात तंत्र साधना की बात, होली में शाबर मंत्रों से करें अपने व्यापार में वृद्धि, कैसे मनायी जाती है विदेशों में होली, होली के चमत्कारी टोटके, तंत्र साधना: एक परिचय, संतान प्राप्ति हेतु सिद्ध तंत्र प्रयोग आदि। इनके अतिरिक्त दूसरे महत्वपूर्ण लेख जो की हमारे स्थायी स्तम्भ हैं, पूर्व की भांति ही सम्मिलित हैं।

सब्सक्राइब


.