महाविनाश का दिन

mahavinash ka din  

Ank ke aur Lekh | Sambandhit Lekh | Views : 2400 |  
mahavinash ka din jis prakar ek saptah ke khatm hone par dusra saptah v mahine ke bad dusra mahina tatha varshant ke bad nav varsh ka agaman hota hai usi prakar mayan kailendar bhi ek kal khand ka hi suchak hai. is bare kalkhand ke samapan ke pashchat dusre bare kalkhand ka aranbh hoga. maya sabhyata ke kailendar ne aisa koi bhi sanket nahin diya ki kailendar ke samapan par 21-12-2012 ko mahavinash hoga. jab bhi koi maya kailendar ki samapti ke din 21 disanbar 2012 ke bare men batata hai to bahut se log yah sochne lagte hain ki yah sansar ke astitva ka akhiri din hoga islie maya sabhyata ke logon ne kailendar samapt kar diya. lekin tabahi hogi iska kya sabut hai ? maya sabhyata ke logon ne brahmand v ganit ke utkrishtatam gyan ki sahayta se mayan kailendar ki rachna ki.
Kya aapko lekh pasand aaya? Subscribe
Kya aapko lekh pasand aaya? Subscribe


Deepawali  अकतूबर 2017

फ्यूचर समाचार का अक्टूबर का विशेषांक पूर्ण रूप से दीपावली व धन की देवी लक्ष्मी को समर्पित विशेषांक है। इस विशेषांक के माध्यम से आप दीपावली व लक्ष्मी जी पर लिखे हुए ज्ञानवर्धक आलेखों का लाभ ले सकते हैं। इन लेखों के माध्यम से आप, लक्ष्मी को कैसे प्रसन्न करें व धन प्राप्ति के उपाय आदि के बारे में जान सकते हैं। कुछ महत्वपूर्ण लेख जो इस विशेषांक में सम्मिलित किए गये हैं, वह इस प्रकार हैं- व्रत-पर्व, करवा चैथ व्रत, दीपावली एक महान राष्ट्रीय पर्व, दीपावली पर ‘श्री सूक्त’ का विशिष्ट अनुष्ठान, धन प्राप्त करने के अचूक उपाय, दीपावली पर करें सिद्ध विशेष धन समृद्धि प्रदायक मंत्र एवं उपाय, आपका नाम, धन और दिवाली के उपाय, दीपावली पर कैसे करें लक्ष्मी को प्रसन्न, शास्त्रीय धन योग आदि।

Subscribe

Apne vichar vyakt karein

blog comments powered by Disqus
.