आप और आपके भाग्यवर्धक पौधे

आप और आपके भाग्यवर्धक पौधे  

हमारे जीवन में पेड़-पौधों की अहम भूमिका है। पेड़-पौधे हमारे संस्कार से लेकर संस्कृति तक में शामिल हैं। कोई पेड़-पौधा औषधीय गुण रखता है, तो कोई आध्यात्मिक महत्व। वास्तु शास्त्र में भी पेड़-पौधों का खूब महत्व है। यहां तक कि कई पेड़-पौधों को हम पूजते भी हैं और हिंदू समाज में इनका एक खास स्थान भी है। वास्तु में भी पेड़-पौधों का बहुत महत्व है। कई वृक्ष ऐसे हैं, जो दिशा विशेष में स्थित होने पर शुभ अथवा अशुभ फल देते हैं। घर के उत्तर में, पूर्व में तथा उत्तर-पूर्व में कम ऊंचाई वाले पौधे, जैसे तुलसी, गेंदा, आंवला, चम्पा, चमेली, मोतिया आदि लगाने चाहिए। ये पौधे वायु को शुद्ध रखते हैं। घर के दक्षिण-पश्चिम में ऊंचे पेड़ जैसे नीम, बड़, पीपल आदि हों तो शुभ प्रभाव देते हैं। आपकी राशि/लग्न के अनुसार आपके लिए कौन सा पौ}ाा लक्की साबित हो सकता है, आईये आपको बताते हैं- मेष: आप स्वभाव से परिश्रमी और साहसी महिला हंै। धैर्य की आपमें बेहद कमी रहती है, इसलिए तुरन्त परिणाम न आने पर आप काम को बीच में ही छोड़ने का सोचने लगती हैं। इसके साथ ही आपके मन में स्वतंत्रता की भावना हमेशा रहती है। आपके पास ऊर्जा का असीमित भंडार है। आपकी राशि का स्वामी मंगल है इसलिए मंगल को प्रसन्न करने हेतु आपके लिए खैर के पेड़ को जल देना अत्यंत शुभ रहेगा। इसके अलावा लाल फूल वाले पेड़-पौधे जैसे गुलाब लगाना भी आपके लिए बहुत शुभ रहेगा। वृष: आप कठिन कार्यों को बड़ी सरलता से पूरा करना जानती हैं। आपकी आवाज और बोल-चाल का ढंग बहुत आकर्षक होता है। आपका अपनी भावनाओं पर बहुत अच्छा नियंत्रण रहता है। आपके लग्न/ राशि का स्वामी शुक्र ग्रह है। शुक्र ग्रह की शुभता आपको स्वास्थ्य, उन्नति और सफलता देगी। शुक्र ग्रह की पूर्ण शुभता प्राप्त करने के लिए आपको गूलर का पेड़ लगाना चाहिए। इसके अलावा आप सफेद फल-फूल वाले बड़े पेड़/पौधे भी लगाएं तो इससे भी आपको लाभ होगा। मिथुन: आप एक बहुमुखी प्रतिभा की महिला हंै। किसी और पर विश्वास न करके खुद पर विश्वास करना आपका मुख्य और महत्वपूर्ण गुण है। इसके साथ ही आप मानसिक प्रतिभा से परिपूर्ण हैं। आप कूटनीति से काम लेती हंै। आपकी लग्न/राशि का स्वामी बुध है। बुध ग्रह को शुभ बनाए रखने के लिए आप अपामार्ग और विधारा नाम के पेड़ लगायें। इसके साथ ही आप बिना फल और बिना फूल वाले छोटे पौधे भी लगाएं, तो आपके लिए ज्यादा लाभप्रद रहेगा। इन पौधों को आप नित्य स्नान आदि कर जल दें और सेवा करें। कर्क: आप प्रत्येक कार्य को करते समय भावनात्मक रुप से जुड़ी रहती हैं। लगातार कार्य करते रहना आपका स्वभाव होता है। इसलिए बिना थके निरन्तर कार्य करना आपके स्वास्थ्य पर भी कई बार बुरा असर डालता है। आप हर परिस्थिति में स्वयं को ढाल लेना जानती हंै। आपकी राशि/लग्न का स्वामी चंद्र ग्रह है। चंद्र ग्रह की अशुभता को दूर करने और शुभता को बढ़ाने के लिए आप पलाश का पेड़ लगायें। इसके अतिरिक्त आपके लिए तुलसी का पौधा लगाकर उसकी सेवा करना भी शुभ फल प्रदायक रहेगा। सिंह: आप ऐशोआराम का जीवन पसंद करने वाली महिला हैं। स्वयं कार्य करने की अपेक्षा आप कार्य करवाना अधिक पसंद करती हैं। जल्दी से किसी की बात मानना या उस पर सहमत होना आपके लिए मुश्किल होता है। सबके लिए आपके मन में समान व्यवहार रहता है। अपनी राशि/लग्न की शुभता प्राप्ति के लिए आप बेल का पेड़ लगायें। यह पेड़ आप विशेष रुप से सावन के माह में लगायें तो इससे प्राप्त होने वाले फलों में बढ़ोत्तरी होगी। इसके अलावा आक का पौधा और लाल रंग के फूल वाले बड़े पेड़ लगाना भी आपको शुभता देगा। कन्या: आप बिल्कुल साफ दिल की महिला हैं। आप छल-कपट नहीं जानती हैं, लेकिन किसी कार्य को करने के लिए जिस रणनीति की आवश्यकता है उसका इस्तेमाल आप अवश्य करती हैं। आप स्वयं से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति से स्नेह करती हैं, किसी के भी प्रति अपने मन में कोई गलत बात नहीं रखती हैं। आपकी राशि/लग्न का स्वामी बुध ग्रह है। बुध ग्रह की शुभता प्राप्ति के लिए आप विधारा या अपमार्ग नाम का पेड़ लगायें तथा आप अपने आस-पास जितनी हरियाली रखेंगी उतना आपके लिए शुभ रहेगा। तुला: आप सामान्य रुप से सौम्य रहने वाली महिला हंै, परन्तु जरुरत पड़ने पर आप कठोर भी हो जाती हंै। इसके अतिरिक्त आप भोग-विलास की वस्तुओं का उपभोग करना और खरीदना ज्यादा पसंद करती हैं। आप विशेष रुप से साज-सज्जा और अपने कपड़ों का ध्यान रखती हैं। आपकी राशि/लग्न शुक्र ग्रह के स्वामित्व के अन्तर्गत आती है। शुक्र ग्रह की शुभता हेतु आप गूलर का पेड़ लगायें और नित्य इस पेड़ को जल दें तथा सफेद और खुशबू देने वाले बड़े पेड़ लगाना भी आपको शुभता प्रदान करेगा जैसे सफेद गुलाब या सफेद गेंदा, मोगरा आदि । वृश्चिक: आप प्रबन्ध कार्यों में निपुणता रखने वाली महिला हंै। आपको अनुशासनहीनता बिल्कुल पसंद नहीं है। भावुकता का भाव आप में अधिक होने के कारण आपको कभी-कभी छोटी-छोटी बातें भी बुरी लग सकती हैं। आपके लग्न/राशि के स्वामी मंगल ग्रह हंै। अपनी राशि स्वामी की शुभता प्राप्त करने के लिए आप लाल रंग के पेड़ और लाल रंग के फूल वाले पौधे लगायें। यह आपके लिए शुभ रहेगा। इसके साथ ही आप खैर का पेड़ भी लगा सकती हैं। धनु: आप आदर्शवादी होने के कारण उत्साही स्वभाव की महिला हैं। आपमें छल-कपट की भावना नहीं होती है। आपकी अध्यात्म और ज्योतिष के प्रति अधिक रूचि होती है। इसके साथ ही आप बुद्धिमान भी हंै। आपकी बातों में गंभीरता का भाव अधिक होता है। आपकी सलाह का अनेक लोग लाभ उठाते हैं। आपकी राशि/लग्न भाव का स्वामी गुरु है। गुरु ग्रह की पूर्ण शुभता प्राप्ति के लिए आप केले का पेड़ लगायें। केले का पेड़ लगाकर आप नित्य इसकी सेवा करें और जल भी दें। यह पेड़ आपको शुभता देगा। मकर: आप बिना रुके निरन्तर कार्य करने का स्वभाव रखती हैं। आप बहुत मेहनती हैं परन्तु कभी-कभी आप बहुत आलसी भी हो जाती हैं। आप दृढ़ निश्चयी और संयमी भी हैं। जीवन में आने वाली बाधाओं से आप घबराती नहीं हैं, बल्कि उनका डटकर मुकाबला करती हैं। आप दूसरों की मदद करने की प्रवृत्ति रखती हैं साथ ही आप बहुत हँसमुख भी हंै। आपकी राशि/लग्न को शुभता देने के लिए आप शनि ग्रह का शमी नाम का पेड़ लगायें। इस पेड़ की नित्य सेवा आराधना करने से शनि देव प्रसन्न होकर आपके सभी कष्टों को दूर करेंगे। कुंभ: आप दिल की साफ और सदैव दूसरों की सोचने वाली साधु प्रवृत्ति की महिला हैं। आपका दिल सदैव साफ होता है और किसी की आलोचना करना आपको बिल्कुल नहीं भाता है। समाज और सर्वहितकारी कार्य करना आपकी पहली पसंद है। आप विषयों को गहराई में जाकर सोचती हैं। इसके अतिरिक्त आपकी अध्यात्म में भी रूचि हो सकती है। आप बहुत धीरे-धीरे और सोच समझकर कार्य करना पसंद करती हैं। आपकी राशि/लग्न के स्वामी शनि ग्रह हैं। शनि ग्रह की अशुभता हेतु आप शमी या नीले फूल वाले पेड़ लगायें। ये आपके लिए विशेष रुप से शुभ रहेंगे। मीन: आप स्वभाव से महत्वाकांक्षी महिला हैं। आपकी प्रवृत्ति स्वतंत्र है। आपमें आत्मविश्वास की भावना प्रबल रुप से पाई जाती है। अपने आत्मविश्वास के कारण ही आप सफलता और सम्मान प्राप्त करती हैं। इसके साथ ही आपमें धार्मिक ग्रन्थ और साहित्य के प्रति विशेष रूचि होती है और आप अच्छी गुरू साबित होती हैं। अक्सर लोग अपनी परेशानी लेकर आपके पास आते हैं और आपकी सलाह पाकर खुश होते हंै। अपने राशि स्वामी गुरु की शुभता पाने के लिए आप केले का पेड़ लगायें और पीले फूल वाले पेड़ भी लगा सकती हैं। प्रस्तुत लेख में अपने बारे में जानने के लिए अपने लग्न अनुसार पढ़ें। यदि लग्न न मालूम हो तो चन्द्र राशि अनुसार पढे़ं। यह भी न मालूम हो तो जन्म तारीख अनुसार सूर्य राशि ज्ञात कर लेख पढ़ें। लग्न जो कि जन्म तारीख, समय व स्थान पर निर्भर करता है आपकी छवि को 100 प्रतिशत चरितार्थ करता है जबकि चन्द्र राशि जो केवल जन्म तारीख पर निर्भर करती है केवल 50 प्रतिशत और सूर्य राशि जो केवल जन्म माह पर निर्भर करती है केवल 25 प्रतिशत छवि को दर्शाती है।

श्रीकृष्ण विशेषांक  आगस्त 2016

फ्यूचर समाचार का वर्तमान अंक भगवान श्रीकृष्ण को समर्पित है। इस अंक में भगवान श्रीकृष्ण, उनसे सम्बन्धित कहानियां एवं श्रीमद् भगवद्गीता के महत्वपूर्ण व्याख्यानों को समाविष्ट किया गया है। महत्वपूर्ण आलेखों में सम्मिलित हैं: गीता के शब्दार्थों का मूल एवं वर्तमान, श्रीकृष्ण जी का भगवद् प्राप्ति संदेश, संक्षिप्त गीतोपनिषद् कृष्ण की रास लीला या जीवन रस लीला, कर्म का धर्म आदि। इसके अतिरिक्त पत्रिका के अन्य स्थायी स्तम्भों के अन्तर्गत अनेक विचारोत्तेजक आलेखों को संलग्न किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.