आप और आपका जीवनसाथी

आप और आपका जीवनसाथी  

प्रस्तुत लेख में अपने बारे में जानने के लिए अपने लग्न अनुसार पढ़ें। यदि लग्न न मालूम हो तो चन्द्र राशि अनुसार पढे़ं। यह भी न मालूम हो तो जन्म तारीख अनुसार सूर्य राशि ज्ञात कर लेख पढ़ें । लग्न जो कि जन्म तारीख, समय व स्थान पर निर्भर करता है आपकी छवि को 100 प्रतिशत चरितार्थ करता है जबकि चन्द्र राशि जो केवल जन्म तारीख पर निर्भर करती है केवल 50 प्रतिशत और सूर्य राशि जो केवल जन्म माह पर निर्भर करती है केवल 25 प्रतिशत छवि को दर्शाती है। ज्योतिष में जन्मपत्री के सातवें भाव से जीवन साथी का विचार किया जाता है। उनकी कैसी च्मतेवदंसपजल होगी कैसा मिजाज होगा कितन सहयोगी होंगे या हावी रहने वाले इसका एक अच्छा अंदाजा हम लगा सकते हैं। हर महिला यह जानना चाहती है कि उसका जीवन साथी कैसा होगा और उसका साथ कैसे निभाएगा तो आइये जानें ज्योतिष के आइने से अपने जीवन साथी की बातें: मेष: मेष से सातवीं राशि है तुला इसलिए आपका जीवनसाथी काफी संतुलित स्वभाव का होगा। शारीरिक रूप से भी सुंदर, स्मार्ट और उन्हंे कला में विशेष रूचि होगी और जीवन की सब सुख-सुविधाओं को भोगने की भी इच्छा रखेंगे और घूमने फिरने के खूब शौकीन होंगे। वृष: वृष राशि वाली महिलाओं का जीवनसाथी काफी गंभीर स्वभाव का होगा और उन्हें आप को क्वउपदंजम करना अच्छा लगेगा और वे चाहेंगे कि आप उनकी सलाह से काम करें। बहुत ऊर्जावान और अपने कामों को रूचि लेकर पूरा करने वाले होंगे। लेकिन उन्हें एक जगह ही स्थिर रहकर काम करना पसंद होगा। स्वभाव से थोड़े जिद्दी और खोजी हो सकते हैं। मिथुन: मिथुन राशि की महिलाओं को धार्मिक प्रवृत्ति के जीवनसाथी मिलेंगे क्योंकि उनकी सातवीं राशि का स्वामी है गुरु। उन्हें हमेशा कुछ न कुछ सीखने व पढ़ने की आदत हो सकती है और हमेशा सीख, नसीहत भी दे सकते हैं। वे परिस्थितियों को आपसे ज्यादा बेहतर समझने में सक्षम होंगे और यह गुण आपको प्रभावित भी करेगा। कर्क: कर्क राशि की महिलाओं को काफी एडजस्ट करने वाले जीवनसाथी मिल सकते हैं। उनमें बहुत ही धैर्य और समझदारी होती है। वे देखने में शांत लग सकते हैं पर जब उनके धैर्य का बांध टूट जाए तो वे काफी उग्र भी हो सकते हैं। बहुत मेहनती और सबके साथ मिलकर चलने वाले होते हैं चूंकि कर्क राशि की महिलाएं काफी संवेदनशील होती हैं। उन्हें उनके सरल स्वभाव से भी परेशानी हो जाती है। सिंह: सिंह राशि की महिलाआंे का जीवनसाथी कुंभ राशि के गुणों से प्रभावित होता है। उनमें अच्छी प्रतिभा होती है। अपने काम के प्रति बहुत वफादार और बहुत मेहनती होते हैं। उनका व्यक्तित्व भी अच्छा एवं आकर्षक होता है। सादा जीवन-उच्च विचार वाली जीवनशैली के मानने वाले सामाजिक छवि रखेंगे। पढ़ाई-लिखाई में सदैव रूचि बनी रहेगी। कन्या: कन्या राशि की महिलाओं को गुरु के गुणों से भरपूर जीवनसाथी मिलता है। वे धार्मिक प्रवृत्ति के साथ काफी खुशमिजाज और कर्मशील होते हैं। उनका योग, साधना, ज्योतिष और अन्य वेदांग के विषय में काफी रूचि रहती है। उन्हें समुद्र के आस-पास जाने का काफी शौक होता है। स्वभाव से चंचल और रिश्तों से लगाव रखने वाले होते हैं। तुला: तुला राशि की महिलाओं को घूमने फिरने वाला जीवनसाथी पसंद होता है। उनका जीवनसाथी मंगल के गुणों से प्रभावित होता है इसलिए काफी ऊर्जावान, साहसी और नये-नये काम करने में रूचि रखने वाला होता है। उसे भी घूमना-फिरना पसंद होता है। वृश्चिक: वृश्चिक राशि वाली महिलाओं के जीवनसाथी काफी आकर्षक होते हैं और समाज में भी उनका अलग रूतबा होता है। उन्हें सुंदर व कलात्मक वस्तुएं अधिक आकर्षित करती हंै। उन्हें अच्छे स्थानों पर जाने का शौक होता है। खाने-पीने के भी खूब शौकीन होते हैं। स्वभाव से कुछ सख्त होंगे परंतु धैर्य और सामाजिक मान-सम्मान खूब होगा। धनु: धनु राशि की महिलाओं के पतिदेव काफी व्यवहार कुशल, अक्लमंद और तीक्ष्ण बुद्धि के होते हैं। उन्हें बाल की खाल निकालने में बड़ा मजा आता है। इनका स्वभाव काफी कूटनीतिक होता है। इसलिए आप महिलाओं को भी उनके कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए थोड़ा सक्रिय रहना पड़ता है। मकर: आपके जीवनसाथी काफी आकर्षक व्यक्तित्व के स्वामी होते हैं। स्वभाव से काफी शांत लेकिन सभी सुख-सुविधाओं के शौकीन और खूब प्यार करने वाले होते हैं। अपने रिश्तों और परिवार का खूब ध्यान रखेंगे और इनके लिए काफी मददगार और भावुक भी होंगे। सप्तम भाव में चंद्र की राशि के कारण अच्छे कार्य करने वाले भी होंगे। कुंभ: कुंभ राशि की महिलाओं को सूर्य से प्रभावित जीवनसाथी मिलेंगे जिन्हें अपना वर्चस्व रखने में काफी आनंद आएगा और घर में अपनी मन की बात को मनवाना भी उन्हें खूब आता होगा। उनके ऊपर अधिकार जमाने की बात को आप भूल ही जाएं तो अच्छा है। उनके सरकारी महकमों से अच्छे संबंध हो सकते हैं। मीन: मीन लग्न वाली महिलाओं को अच्छे स्वभाव के जीवनसाथी मिलेंगे जो आपका हर तरह से साथ निभाएंगे और देखने में भी काफी आकर्षक और अपनी उम्र से कम ही लगेंगे। आपको भी घूमने-फिरने का शौक होगा इसलिए दोनों में खूब जमेगी। सप्तम में बुध की राशि होने के कारण साथी बुद्धिमान होता है।


टैरो विशेषांक  आगस्त 2015

फ्यूचर समाचार के टैरो कार्ड विशेषांक में फलकथन की लोकप्रिय पद्धति के परिचय, इतिहास, पत्तों की व्याख्या आदि विषयों पर आकर्षक व सारगर्भित लेखों के अतिरिक्त सामयिक चर्चा के अन्तर्गत गुरु के गोचरीय प्रभाव को शामिल किया गया है। इस अंक में मानबी बन्दोपाध्याय के जीवन पर सत्य कथा, भरत चरित्र, एडोल्फ हिटलर की जीवनी का ज्योतिषीय विश्लेषण, नैतिक ढंग से वश में करने के लिए क्या करें?, पंचांग देखे बिना तिथि बताना आदि लेख बहुत रोचक हंै। विचार गोष्ठी में प्राकृतिक आपदा के ज्योतिषीय कारणों की व्याख्या की गई है। विशेषकर महिलाओं के लिए ज्योतिष एवं महिलाएं नामक शीर्षक के अन्तर्गत आप और आपके जीवन साथी के बारे में आपकी राशि के आधार पर बताया गया है। अन्य स्थायी स्तम्भों में श्रवण मास में विशिष्ट शिव साधनाओं के बारे में रोचक जानकारी दी गई है। पंच-पक्षी, वास्तु परामर्श, अस्पताल का वास्तु, ग्रह गोचर एवं व्यापार, मुहूर्त एवं पचांग सम्बन्धी जानकारी तथा हैल्थ कैप्सूल दृष्टव्य हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.