गर्भावस्था के दौरान रखें इस खास बातों का खयाल

गर्भावस्था के दौरान रखें इस खास बातों का खयाल  

सम्बंधित लेख | व्यूस : 2922 |  

  • महिला को स्वास्थ्य के प्रति अप टू डेट रहना चाहिए।
  • धूम्रपान से आपके शरीर में केमिकल प्रवेश कर जाते हैं।
  • कैफीन के सेवन से हृदय गति और नींद पर असर पड़ता है।

गर्भावस्था के दौरान महिला का अपना और अपने होने वाले शिशु दोनोंका खास खयाल रखना चाहिये। उसे नयी जानकारियों के प्रति सचेत रहना चाहिये ताकि आप और आपका शिशु दोनों स्वस्थ रह सके।

धूम्रपान

धूम्रपान केवल आपके लिए ही बुरा नहीं है, बल्कि यह आपके होने वाले बच्चे के लिए भी बेहद खतरनाक है। गर्भावस्था के दौरान धूम्रपान करने से गर्भ में पल रहे आपके शिशु को भी आॅक्सीजन की सप्लाई कम हो जाती है। इससे गर्भपात, रक्त स्राव और माॅर्निग सिकनेस जैसी शिकायतें हो सकती है। धूम्रपान से आपके शरीर में केमिकल प्रवेश कर जाते हैं, जिससे आपके बच्चे की सेहत को काफी नुकसान हो सकता है। इससे जन्म के समय उसका वजन कम हो सकता है साथ ही उसे कई अन्य गभी र बीमारियां भी हो सकती हैं।

अल्कोहल

गर्भावस्था के दौरान शराब के सेवन से भी बचा जाना चाहिये। इससे आपके शिशु को बहुत नुकसान हो सकता है। उसका वजन सामान्य से कम हो सकता है। चिकित्सीय बीमारियां हो सकती है। और साथ ही साथ उसे व्यवहारगत दिक्कतें भी हो सकती है। जैसे ही आपको यह पता चले कि आप गर्भवती हैं, शराब का सेवन बंद कर दें।

कैफीन

हालांकि कैफीन के बारे में माना जा रहा है कि गर्भावस्था में इसका सेवन उतना खतरनाक नहीं है जितना कि पहले माना जाता था। फिर भी, एफडीए ने गर्भावस्था के दौरान कैफीन के अधिक सेवन के प्रति आगाह किया है। अमेरिका की इस खाद्य एजेंसी का मानना है कि गर्भावस्था के दौरान अगर कैफीन का सेवन न ही किया जाए, तो बेहतर है। कैफीन के सेवन से हृदय गति और नींद पर असर पड़ता है।

दवाएं और हर्बल उपाय

डाॅक्टर की सलाह के बिना किसी भी दवा का सेवन न करें। ऐसा करना आपके और आपके होने वाले शिशु के लिए खतरनाक हो सकता है। किसी भी दवा का सेवन करने से पहले अपने डाॅक्टर से जरूर पूछें। अन्यथा शिशु के विकास पर बुरा असर पड़ता है।

पोषण

आजकल इंटरनेट का जमाना है और इसके माध्यम से आप गर्भवती महिला के लिए आवश्यक खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी हासिल कर सकती हैं। लेकिन, इस स्रोतों का इस्तेमाल केवल जानकारी के लिए ही करें। अपने आप किसी भी सप्लीमेंट का सेवन न करें। ऐसा करना आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है। जानकारों के मुताबिक गर्भवती महिला को रोजाना फोलिक एसिड का सेवन जरूर करना चाहिये। इसके लिए आपको विटामिन बी का सेवन करना चाहिये, जो आपके गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए जरूरी होता है। फाॅलिक एसिड की कमी से आपके शिशु को व्यवहारगत समस्यायें हो सकती हैं। गर्भधारण से एक महीना पहले आपको 400-1000 विटामिन बी का सेवन करना शुरू कर देना चाहिये और पूरी गर्भावस्था में उसका सेवन करते रहना चाहिये। इसके साथ ही आपको हरे पत्तेदार सब्जियां, संतरे का जूस और बीन्स आदि का सेवन करना चाहिये। ये सब फाॅलिक एसिड से भरपूर होते हैं।

व्यायाम जरूर करें

गर्भावस्था के दौरान अपडेट रहने के लिए जरूरी है कि आप व्यायाम जरूर करें। इससे मां की मानसिक स्थिति बेहतर होती है और शरीर में आॅक्सीजन के स्तर में भी सुधार होता है। ऐसा शिशु के लिए फायदेमंद होता है। हालांकि, इस बात का जरूर ध्यान रखें कि कोई भी व्यायाम डाॅक्टर की सलाह के बिना न करें। कई व्यायाम ऐसे होते हैं, जिन्हें करना आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है। आपको ऐसा करने से बचना चाहिये। वाॅकिंग, स्विमिंग और योग आदि गर्भवती महिला के लिए मददगार व्यायाम हो सकते हैं।

देखभाल

आपको डाॅक्टर के पास जाकर नियमित रूप से अपनी जांच करवाते रहना चाहिये। आपको इस बात पर नजर रखनी चाहिये कि आखिर शिशु का विकास सही हो रहा है या नहीं। आपको मालूम होना चाहिये कि कुछ साइड इफेक्ट पूरी तरह सामान्य होते हैं, जबकि कुछ के साथ ऐसा नहीं होता। विशेषज्ञ द्वारा नियमित जांच से आपको काफी फायदा हो सकता है।



अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.